ट्रोल्स पर बोले रवीश कुमार- आसान नहीं है नौकरी व चैन दांव पर लगाकर लोगों के साथ खड़ा रहना

रवीश कुमार, सीनियर टीवी जर्नलिस्ट(फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्कः टीवी जर्नलिस्ट रवीश कुमार अपने एक बयान को लेकर सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रहे हैं. रवीश कुमार ने सोशल मीडिया पर खुद के ट्रोल होने का जवाब भी दिया है. उन्होंने कहा है कि जो उनका मजाक बना रहे हैं, वे उनका नहीं बल्कि अपना मजाक बना रहे हैं. वह किसी को हराते या जिताते नहीं हैं.

रवीश कुमार ने आगे कहा है कि वह साहस के साथ अपना नजरिया सबके सामने रखते हैं, क्योंकि लाखों में एक रवीश कुमार होने से बोलने का हौसला आता है. जाहिर है रवीश कुमार के इस जवाब पर एक बार फिर बखेड़ा खड़ा होने वाला है. बता दें कि रवीश लंबे समय से सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं. सेंट्रल स्कूल में चल रहा मंत्री कोटा का खेल, रवीश बोले- अबकी बार सिफ़ारिश सरकार !



टि्वटर और फेसबुक पर अपनी बेबाक राय को लेकर रवीश अक्सर ट्रोल्स के निशाने पर आते हैं. ऐसे में सोशल मीडिया का एक धड़ा उन पर यह आरोप लगाता है कि वह एक पक्षीय हो जाते हैं. जबकि रवीश इन आरोपों को लेकर समय-समय पर अपनी राय रखते हैं. हाल ही में सोशल मीडिया पर वे ट्रोल्स के निशाने पर आए थे, जिसका सोमवार को उन्होंने जवाब दिया है.

फेसबुक पोस्ट के जरिए उन्होंने कहा है कि जो मेरा मजाक उड़ा रहे हैं. मैं उतना कहूंगा कि आप मेरा नहीं अपना ही मजाक उड़ा रहे हैं. मैं सवाल करता हूं. किसी को हराता या जिताता नहीं. मुझमें अपना नजरिया रखने का साहस है. एक ताकतवर और लोकप्रिय नेता के सामने खड़े होकर बोल देने के लिए जो हौसला चाहिए वह मुझ में है.

उन्होंने आगे लिखा कि अपनी नौकरी, अपना चैन सबकुछ दांव पर लगाकर लोगों के सवाल के साथ खड़ा होना सबके बस की बात नहीं. सूरत के व्यापारी जानते हैं. उनसे कभी नहीं कहा कि आप किसे वोट करेंगे. उन्होंने तकलीफ बताई तो उनकी बात उठा दी. यही मेरा काम है और यही करता रहूंगा.