केंद्रीय मंत्री आरके सिंह बोले- कश्मीर में कुछ बाहरी मौलवी भड़का रहे हिंसा, महबूबा पर भी बरसे

लाइव सिटीज डेस्क : जम्मू और कश्मीर में आतंकवाद को लेकर केंद्रीय मंत्री आरके सिंह ने चरमपंथी मौलवियों पर निशाना साधा है. आरके सिंह का कहना है कि घाटी में इस्लाम की चरमपंथी वहाबी विचारधारा हावी होती जा रही है. उन्होंने कहा कि घाटी में मदरसे और मस्जिदों की कमान अब इन वहाबी लोगों के हाथों में आ गई है. आरके सिंह ने कहा कि इन बाहर से कुछ मौलवी घाटी में घुस आए हैं और कश्मीरी युवकों को पत्थरबाजी के लिए भड़काते हैं. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इन लोगों चरमपंथी मौलवियों को हुर्रियत का समर्थन है.

महबूबा मुफ्ती पर भी हमला बोला

बिहार में आरा से केन्द्रीय मंत्री और बीजेपी सांसद आर के सिंह ने जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती पर भी हमला बोला और उनके सलाहुद्दीन और यासीन मलिक जैसे आतंकियों के पैदा होने वाले बयान पर उनकी तीखी आलोचना की. आरके सिंह ने इस मुद्दे पर कहा कि “इस तरह की धमकियां हमें प्रभावित नहीं कर सकती और इन्हें बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. आतंकी और हुर्रियत को उनके हिसाब से ही डील किया जाएगा.”

बता दें कि महबूबा मुफ्ती ने केन्द्र सरकार पर पीडीपी तोड़ने की कोशिशों का आरोप लगाया है और कहा है कि यदि जम्मू कश्मीर में 1987 की परिस्थितियां बनीं तो कई सैयद सलाहुद्दीन और यासीन मलिक जैसे आतंकी पैदा होंगे. उल्लेखनीय है कि 1987 में घाटी में हुए विधानसभा चुनावों के दौरान धांधली की खबरें आयी थीं, जिसके बाद ही कश्मीर में उग्रवाद की शुरुआत हुई और लाखों पंडितों को घाटी से विस्थापन झेलना पड़ा था.

यह भी पढ़ें : प्रेसिडेंट रामनाथ कोविंद ने राज्यसभा के लिए 4 सांसदों को किया मनोनीत, देखें किनको मिली जगह

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इन दिनों घाटी में कुछ मस्जिदें वहाबी विचारधारा का समर्थन कर रही हैं. और यह इस्लाम की कट्टरपंथी विचारधारा है. रिपोर्ट के अनुसार इस इन वहाबियों को सऊदी अरब से मोटा फंड दिया जाता है. यही कारण है कि पिछले कुछ सालों में ही मदरसे और मस्जिदों का संचालन मौलवियों के हाथ में आ गया है, जिससने राज्य में उग्रवाद को हवा दे दी है.

About Razia Ansari 1527 Articles
बोल की लब आज़ाद हैं तेरे, बोल जबां अब तक तेरी है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*