राम मंदिर और ट्रिपल तलाक पर सीएम नीतीश ने साफ- साफ कह दिया – हम नहीं बीजेपी के साथ

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राम मंदिर और ट्रिपल तलाक को लेकर बड़ा बयान दिया है. सीएम नीतीश ने कहा कि हमारी पार्टी के विचार कुछ मामलो में बीजेपी से अलग है और यह बात बीजेपी भी जानती है. सीएम नीतीश कुमार ने उक्त बातें अपने लोक संवाद कार्यक्रम के दौरान कही. इस दौरान उन्होंने लोकसभा चुनावों में एनडीए की जीत का दावा भी किया.

राम मंदिर और ट्रिपल तलाक पर सीएम नीतीश ने साफ किया अपना स्टैण्ड

पटना में आज सीएम नीतीश कुमार ने अपने लोक संवाद कार्यक्रम में बीजेपी और उनकी पार्टी जदयू के विचारों में मतभेदों को लेकर बात कही. सीएम नीतीश ने कहा कि जदयू और बीजेपी के बीच कई विचारों पर मत एक जेसे नहीं हैं. उन्होंने कहा कि इस बात को बीजेपी भी जानती है. सीएम ने कहा कि हम विकास के साथ आए हैं और मिलकर अच्छा काम कर रहे हैं. जनता की सेवा कर रहे हैं.

सीएम नीतीश का यह बयान राम मंदिर और ट्रिपल तलाक को लेकर फिर साफ-साफ कहा है कि वे इस मामले पर अपने सहयोगी दल बीजेपी के सााि हीं हैं. वहीं उन्होंने यह भी साफ कर दिया कि ट्रिपल तलाक जैसे मामलों को लेकर मुस्लिम समुदाय से बिना राय के कानून भी नहीं बनना चाहिए. बता दें कि इससे पहले ही जदयू की ओर से इस बात को लेकर कहा गया था कि वह इन दोनों मुद्दो पर बीजेपी के साथ नहीं है.

नरेन्द्र मोदी दोबारा बनेंगे देश के प्रधानमंत्री

एक ओर जहां नीतीश कुमार ने दो बड़े मुद्दो पर जदयू के स्टैण्ड को क्लियर कर दिया है तो वहीं उन्होंने दूसरी तरफ 2019 के लोकसभा चुनावों को लेकर एनडीए की जीत होने का दावा भी किया है. उन्होंने यह भी दावा किया कि नरेन्द्र मोदी देश के दोबारा पीएम बनेंगे. सीएम ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है और साफ-साफ नजर आ रहा है कि नरेन्द्र मोदी ही इस देश के अगले प्रधानमंत्री बनेंगे.

लोक संवाद कार्यक्रम के तहत पत्रकारों से बात करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि मध्य प्रदेश और राजस्थान में बीजेपी की हार जरूर हुई है, लेकिन वोट प्रतिशत में एमपी में बीजेपी आगे है और राजस्थान में महज 0.4 प्रतिशत से कांग्रेस से पीछे रह गई है. उन्होंने कहा कि इससे साफ जाहिर हो रहा है कि आने वाले समय में जब लोकसभा के चुनाव होंगे तो नीतजे एनडीए के पक्ष में आएंगे.

नीतीश कुमार ने बिहार में महागठबंधन की जीत की संभावनाओं को खारिज करते हुए कहा कि जनता मालिक है और वह सब जानती है. उन्होंने कहा कि जिन्होंने बिहार का पिछला अनुभव देखा है वे उन्हें दोबारा नहीं चुनेंगे, ऐसा उन्हें विश्वास है. उन्होंने कहा कि इसका कोई भविष्य नहीं है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*