नीति आयोग की बैठक में पीएम मोदी से बोले सीएम नीतीश, वन नेशन वन रेट के हिसाब से मिले बिजली, बिहार को विशेष राज्य की दरकार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : प्रधानमंत्री (PM) की अध्यक्षता में नीति आयोग (Niti Aayog) की गवर्निंग काउंसिल की 6ठीं बैठक हुई. जिसमें वीडियो कांफ्रेंसिंग (Video Confrencing) के माध्यम से मुख्यमंत्री (CM) नीतीश कुमार (Nitish Kumar) शामिल हुए. बैठक के दौरान उन्होंने पीएम (PM) के समक्ष बिहार के विशेष राज्य का दर्जा देने (Special state status), पूरे देश में बिजली का एक रेट (One Nation One Rate) करने की मांग की. साथ ही बिहार के बैंकों द्वारा प्रदेश के पैसों को विकसीत राज्यों में लगाने पर कड़ा एतराज जताया.

अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने पीएम मोदी से कहा कि पूरे देश में बिजली की आपूर्ति केंद्र सरकार की तरफ से की जाती है. ऐसे में सभी जगह अगर उसका एक रेट हो जाए तो यह बहुत अच्छा होगा. इसके लिये एक नीति बननी चाहिए यानि वन नेशन, वन रेट होना चाहिए. उन्होंने कहा कि बिजली के क्षेत्र में हम लोगों ने कई काम बिहार में शुरू किये. हर घर बिजली पहुंचाने की योजना बनाई और वो पहुंच गयी और तब तक केंद्र सरकार की भी योजना बन गई तो उनका भी सहयोग मिला. वर्ष 2018 के अक्टूबर महीने में ही हर घर बिजली हमलोगों ने पहुंचा दी है.

सीएम नीतीश ने कहा कि लोगों को कम कीमत पर बिजली मुहैया हो इसके लिए हमलोग कोशिश कर रहे हैं. प्री-पेड स्मार्ट मीटर लगाना हमलोगों ने शुरू कर दिया है. अब केंद्र सरकार भी इसे लागू कर रही है, इससे काफी फायदा होगा. प्री-पेड स्मार्ट मीटर के लागू होने से बिजली का दुरूपयोग नहीं होगा. लोगों को जितनी जरुरत होगी उतनी ही बिजली का वे प्रयोग करेंगे.

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के प्लांटों के माध्यम से जो अलग-अलग राज्यों में बिजली जाती है, उसका रेट भी अलग-अलग है. इसके लिये एक नीति बननी चाहिए यानि वन नेशन, वन रेट हो. हमलोगों को बिजली काफी महंगी मिलती है, जिससे लोगों को राज्य सरकार की तरफ से ज्यादा अनुदान देना पड़ता है. पूरे देश के लिए एक नीति कर दी जायेगी तो काफी अच्छा होगा.