समस्तीपुर में अपने गुरू का पैर छूकर सीएम नीतीश ने लिया आशीर्वाद, बीमार शिक्षक का जाना हाल

लाइव सिटीज, पटना डेस्क: समस्तीपुर में सीएम नीतीश (CM Nitish Kumar) ने समाज सुधार अभियान के तहत आयोजित सभा को संबोधित किया. कार्यक्रम के बाद जैसे ही मुख्यमंत्री को यह पता चला कि उनके बयोवृद्ध गुरू नंदकिशोर प्रसाद सिंह इसी शहर में बीमार हैं, तो तुरंत उन्हें देखने पहुंच गए. समस्तीपुर जिले के उजियारपुर के भगवानपुर कमला जाकर उन्होंने अपने बीमार गुरू से आर्शीवाद लिया. उनके परिजनों से मुलाकात कर स्वास्थ्य की जानकारी ली.

भगवानपुर कमला में गुरू के घर जाते ही उन्होंने सबसे पहले उनका पैर छूकर आर्शीवाद लिया. साथ ही इस मौके पर मौजूद शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी, मंत्री संजय झा से अपने गुरू की बातों को शेयर करते हुए पुराने दिनों को याद किया.

बता दें कि समस्तीपुर के पटेल मैदान जीविका दीदियों को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी के बाद महिलाओं की सामाजिक और आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है. शराबबंदी को सफल बनाने में सभी लोग लगे हैं. सीएम ने शराब पीने वालों को चेतावनी देते हुए कहा कि हम किसी को शराब पीने की इजाजत नहीं देंगे. उन्होंने कहा कि कभी मत पीयो शराब, पीने से मौत होगा.

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि जब से मौका मिला है काम कर रहे हैं. लोक हित में लगातार काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि 2005 के पहले और अब में काफी बदलाव हुआ है. लॉ एंड ऑर्डर में सुधार किए हैं. उन्होंने कहा कि 24 नवम्बर 2005 से लगातार काम कर रहे हैं. महिलाओं के विकास के बिना समाज का विकास नहीं हो सकता है. बिहार में पंचायत में महिलाओं को आरक्षण दिया.

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार मॉडल को कई राज्यों ने कॉपी किया. उन्होंने कहा कि बिहार के काम को देखने के लिए विदेश से टीम आयी. हमने जो जीविका की शुरुआत की उसको केंद्र ने आजीविका नाम से लांच किया. उन्होंने कहा कि लड़कियों के लिए साइकिल और पोशाक योजना की शुरुआत की.

दहेज़ और बाल विवाह के खिलाफ भी जमकर बोले. उन्होंने लोगों से कहा कि दहेज़ लेने और देने वालों का विरोध करें. बाल विवाह के खिलाफ अभियान चल रहा है. सीएम नीतीश ने बताया कि कम उम्र में शादी से बौनापन की शिकायत होती है. बता दें कि नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) इन दिनों समाज सुधार अभियान चला रहे हैं. सीएम ने 22 दिसंबर को मोतिहारी से इस अभियान की शुरुआत की थी. उसके बाद गोपालगंज, सासाराम और मुजफ्फरपुर में अब तक मुख्यमंत्री की यात्रा हो चुकी है.