बिहार सचिवालय में कोरोना ने दी दस्तक, राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के कर्मचारी हुए संक्रमित, दो दिनों के लिए दफ्तर सील

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार के चप्पे-चप्पे में कोरोना ने दस्तक दे दी है. बिहार सचिवालय में भी कोरोना ने पांव पसारना शुरू कर दिया है. राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के 4 संयुक्त सचिव समेत अन्य कर्मचारी संक्रमित हो गए हैं. विभाग के कर्मचारियों के संक्रमित होने के बाद एहतियातन दफ्तर को सील कर दिया गया है. दो दिनों के लिए दफ्तर को सील किया गया है.

इधर बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए पार्टी कार्यालय भी बंद होने लगे हैं.राजधानी पटना में सबसे पहले आरजेडी कार्यालय को बंद किया गया, उसके बाद जेडीयू ने भी पार्टी कार्यालय को कोविड के कारण बंद कर दिया. अब बीजेपी पार्टी कार्यालय में बंद कर दिया गया. आम लोगों के लिए इन पार्टी कार्यालयों को बंद कर दिया गया है.

जेडीयू पार्टी कार्यालय के गेट पर नोटिस चिपकाया गया है. जिसमें पार्टी कार्यालय में बाहरी लोगों के आने को लेकर रोक लगाने की जानकारी दी गई है. इस नोटिस में जदयू कार्यालय में यह तालाबंदी 15 से 20 अप्रैल तक के लिए ही की गई है. 

अप्रैल तक किसी प्रकार की ना तो बैठक होगी, ना ही पार्टी कार्यकर्ताओं को कार्यालय में आने दिया जाएगा. इसको लेकर पार्टी कार्यालय के बाहर नोटिस भी चिपका दिया गया है. पार्टी के कार्यकर्ता मोबाइल नंबर पर जरूर पार्टी पदाधिकारियों से संपर्क स्थापित कर सकते हैं और नंबर भी नोटिस में दिया गया है.

जदयू में लगातार बैठकें हो रही थी और इस पर सवाल भी खड़ा हो रहा था. लेकिन अब कार्यालय बंद होने के बाद सभी तरह की बैठकों पर विराम लग गया है. मुख्य विपक्षी दल आरजेडी के कार्यालय में पहले से ही प्रवेश पर रोक है. आरजेडी के कई नेता कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं और इसके कारण कार्यालय पूरी तरह बंद है. अब सत्ताधारी दल जदयू का कार्यालय भी बंद हो चुका है. यानी कोरोना का असर राजनीतिक गलियारों में भी जबरदस्त पड़ा है.