पटनाः नोटबंदी को 2 साल पूरा होने पर घेराव, रिजर्व बैंक आफ इंडिया पर कांग्रेसी करेंगे प्रदर्शन

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः कांग्रेस पार्टी नोटबंदी के दो साल होने पर वह राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन करेगी. पार्टी ने कहा है कि अर्थव्यवस्था को बर्बाद और तहस-नहस करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लोगों से माफी मांगनी चाहिए. आज पटना की सड़कों पर कांग्रस के नेता और कार्यकर्ता उतरने वाले हैं. नोटबंदी के खिलाफ आरबीआई के कार्यालय को घेरा जाएगा.

नोटबंदी तुगलकी फरमान

बता दें कि मंगलवार को कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा था कि दो साल पहले नोटबंदी के तुगलकी फरमान से देश की अर्थव्यवस्था को पूरी तरह तबाह करने के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करने के लिए कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता सड़कों पर उतरेंगे.

तिवारी ने कहा कि दो साल पहले आठ नवंबर को प्रधानमंत्री ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए तकरीबन 16.99 लाख करोड़ रूपये मूल्य की मुद्रा को चलन से बाहर कर दिया. उस तुगलकी फरमान के लिए तीन कारण दिए गए थे कि इससे काले धन पर रोक लगेगी, जाली मुद्रा बाहर होगी. आतंकवाद को वित्तीय सहायता मिलनी बंद हो जाएगी लेकिन दो साल बाद इनमें से कोई लक्ष्य पूरा नहीं हो पाया.

8 नवंबर, 2016 को लागू हुई थी नोटबंदी

गौरतलब है कि मोदी सरकार ने 8 नवंबर, 2016 को 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट बंद करने का ऐलान किया था. 8 नवंबर की रात से ये पुराने नोट बंद हो गए थे. नोटबंदी के बाद से ही लगातार आरबीआई ने नोटों की गिनती करने में लगी हुई थी. नोटबंदी को लेकर विपक्ष लगातार मोदी सरकार पर हमलावर रहा है. मोदी सरकार ने कालाधन पर वार करने के लिए नोटबंदी की घोषणा की थी.

दो महीने पहले भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा कि नोटबंदी के दौरान बंद हुए लगभग सभी पुराने नोट वापस आ चुके हैं. आरबीआई ने अपनी एनुअल जनरल रिपोर्ट में कहा कि कुल 99.30 फीसदी 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट वापस आ चुके हैं. आरबीआई की एनुअल रिपोर्ट में इन नोटों का पूरा लेखा-जोखा दिया है.

About Md. Saheb Ali 3663 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*