तेलांगना अपडेट: आठ बिहारी और एक बंगाली मजदूर का शव कुएं से बरामद, महिलाएं भी हैं शामिल

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: तेलांगना में एक कुंए से 9 लोगों का शव बरामद किया गया है. जिसके बाद से हड़कंप मचा हुआ है. ये सभी प्रवासी मजदूर हैं, जिन्होंने आर्थिक तंगी से परेशान होकर मौत को गले लगा लिया. ये सभी बिहार और पश्चिम बंगाल के रहने वाले हैं.

तेलंगाना के वारंगल जिले के गिसुगोंडा मंडल के गोरे कुंता औद्योगिक क्षेत्र में घटी इस घटना ने हड़कंप मचा दिया है. इस क्षेत्र में एक कुएं से 9 लोगों के शव मिले हैं. इनमें एक बच्चा और 2 महिलाएं हैं. पुलिस ने चार शव को गुरुवार को और बाकी पांच शव शुक्रवार को निकाले. शवों के ऊपर किसी तरह के चोट के निशान नहीं है.



हालांकि यह पता नहीं लग पा रहा की हत्या हुई है या आत्महत्या. पुलिस जांच में जुटी है. कई लोगों को हिरासत में भी लिया गया है. घटनास्थल का निरीक्षण करने वाले वारंगल के कमिश्नर बी रविंद्र का कहना है कि पश्चिम बंगाल का निवासी मोहम्मद मकसूद 20 साल पहले वारंगल आया था और वह करीमाबाद में परिवार के साथ रहता था.

कोरोना संकट की वजह से लगे लॉक डाउन में पिछले कुछ दिनों से वह कुएं के पास स्थित गोदाम में रह रहा था. वहीं पास में बिहार के मजदूर श्री राम और श्याम भी रह रहा था. इसी बीच कंपनी का मालिक संतोष भी वहां आया था तो उसे कोई नजर नहीं आया. जब उसने खोजबीन शुरू की तो गोदाम के पास कुएं में सब दिखे जिसकी सूचना उसने पुलिस को दी.