बिहारियों पर हमला मामले में गोहिल ने दी अल्पेश को क्लीन चिट, BJP को बताया दोषी

shakti-singh-gohil
livecities से खास बातचीत के दौरान शक्ति सिंह गोहिल

पटना. सेन्ट्रल डेस्क. बिहार में कांग्रेस के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने गुजरात में बिहारियों पर हमले को लेकर अल्पेश ठाकोर के नाम को लेकर क्लीनचीट दे दिया है. श्री कृष्ण सिंह जयंती में अल्पेश के शामिल नहीं होने को लेकर भी गोहिल ने जवाब दिया है. आपको बता दे कि बिहार कांग्रेस के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने आज के कार्यक्रम में अल्पेश के नहीं आने को लेकर भी मीडिया में चल रहीं अटकलों को खारिज किया है. गोहिल ने आज पटना के श्री कृष्ण सिंह मेमोरियल हॉल में कार्यक्रम में भाग लेने के बाद लाइव सिटीज से खास बातचीत की.

लाइव सिटीज से खास बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने की  खास बातचीत

लाइव सिटीज से बात के दौरान बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने सभी सवालों का जवाब दिया.अल्पेश ठाकोर के बिहार नहीं आने को लेकर जब उनसे पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मेंरे दो और सेक्रेटरी आज नहीं आए हैं. उन्होंने कहा कि मेरा मानना हे कि एक जगह इकठ्ठा होने के बजाए सब अलग—अलग इलाकों में काम करें.

जब गोहिल से हमारे संवाददाता ने पूछा कि क्या कांग्रेस को इस बात का कोई भय है कि अगर अल्पेश बिहार आते तो भारी विरोध झेलना पड़ता? इसके जवाब में गोहिल ने कहा कि मैने कुछ तथ्य दिल्ली से प्रेस कांफ्रेंस के दौरान हीं रखे थे. उन्होंने सारा आरोप बीजेपी पर लगाते हुए कहा कि वहां की सरकार ने पहले ही ये कह दिया है कि किसी भी फैक्ट्री में हम 20 प्रतिशत से ज्यादा नहीं चलने देंगे. गुजरात में बिहारियों पर हमले के मामले में अल्पेश को क्लीन चीट देते हुए उन्होंने  कहा कि अल्पेश ने बाहरी लोगो के लिए सारे काम किए,सद्भावना का काम, जोड़ने का काम किया.

उन्होंने कहा कि गुजरात में रोजगार नहीं है, किसानों को दाम नहीं मिल रहा है, नोटबंदी और जीएसटी ने लोगों की कमर तोड़ दी है, ऐसे में इन सभी मुद्दो से लोगों का एटेंशन डाइवर्ट करने के लिए  साजिश के तहत उत्तर भारतियों पर बीजेपी ने हमले करवाए .

बीजेपी को बताया  दोषी

जब उनसे पूछा गया कि गुजरात में बिहारियों के हमले को लेकर आप मूल कारण किसे मानते है? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि बिहार और गुजरात का पूराना नाता है. गुजरात गांधी की जन्म भूमी रहीं है वहीं बिहार गांधी की कर्मभूमी है.बिहार कांग्रेस प्रभारी ने कहा कि गुजराती ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ में विश्वास रखता है. जितना गुजराती को देश के अन्य प्रांत में रहने का हक़ है  उतना हीं ​बिहारियों को भी गुजरात में रहने का है.

उन्होंने बीजेपी को पूरी तरह से दोषी बताते हुए कहा कि महाराष्ट्र में भी जब गुजरातियों पर हमले हुए  जिसमें बीजेपी की सहयोगी पार्टी का हाथ था, तो वहां हम ही लड़े थे. उन्होंने इस पूरे मामले में प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी को घेरते हुए कहा कि वे खुद गुजरात से आते हैं और वाराणसी से चुनाव जीते हैं. ये उनकी विफलता है कि जहां के लोगों ने उन्हें सबसे ज्यादा प्यार दिया वे उन्ही की रक्षा अपने राज्य में नहीं कर सके.

गुजरात CM पर करेंगे केस

अंत में जब बिहार कांग्रेस के प्रभारी से यह पूछा गया कि क्या कांग्रेस के लिए अल्पेश गले कि हड्डी बन गए हैं और क्या कांग्रेस  उन्हे आनेवाले वक्त में बिहार कांग्रेस के सहप्रभारी पद से हटा भी सकती है? इसपर शक्ति सिंह गोहिन ने कहा कि अल्पेश ओबीसी नेता हैं, उनको एक साजिश के तहत इस प्रकरण में फंसाया गया है. उसका हर कदम उसके बाद, अगर उसने गलती  की होती नहीं बात मानी होती तो, उन्होंने कहा कि उसने मेरे कहने  पर अपील की, सद्भावना रैली की.उसका सारा एक्शन हमारी विचारधारा के अनुसार है.

गुजरात के सीएम विजय रुपाणी पर एक बार फिर हमला किया. बिना उनका नाम लेते हुए गोहिल ने कहा कि गुजरात के सीएम के उपर क्रिमनल केस और सीविल केस मैं फाइल करूंगा क्यों कि ये पाप उनका था और इसमे कांग्रेस को बदनाम होना पड़ा.आपको बता दे कि इससे पहले भी वे इसी बात को दिल्ली के प्रेस कांफ्रेस में कह चुके हैं. यानि एक तरह से कहें तो बिहार कांग्रेस प्रभारी ने अल्पेश ठाकोर को क्लीन चिट दे दी है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*