सुप्रीम कोर्ट में हुई मुजफ्फरपुर महापाप मामले की सुनवाई, वापस घर भेजी जाएंगी 8 पीड़ित लड़कियां

फाइल फोटो

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : मुजफ्फरपुर महापाप मामले में आज बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. इस दौरान टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ़ सोशल साइंसेस (TISS) ने सुप्रीम कोर्ट में रिपोर्ट दाखिल की. यह रिपोर्ट बालिका गृह के पीड़ितों के पुर्नवास को लेकर दाखिल हुई है. कोर्ट गुरुवार को पीड़ित लड़कियों को अभिभावकों को सौंपने को लेकर आदेश जारी करेगा.

रिपोर्ट के अनुसार 8 लड़कियों को घर भेजा जा सकता है. कुछ पीड़ित लड़कियों ने परिवार के साथ रहने की इच्छा जताई है. वहीँ, सुप्रीम कोर्ट ने चाइल्ड वेलफेयर कमेटी और बिहार सरकार से जवाब भी मांगा है. इसके बाद ही सुप्रीम कोर्ट इस संबंध में कोई आदेश जारी करेगा.

बता दें कि बीते जुलाई में मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने TISS को आदेश दिया था कि वो बालिका गृह में यातना सह चुकी सभी 44 लड़कियों के पुनर्वास का प्लान तैयार करे, और चार हफ्ते में लड़कियों के पुनर्वास की रिपोर्ट कोर्ट को सौंपे. इसके साथ ही कोर्ट ने यह भी कहा था कि सभी लड़कियों के लिए अलग-अलग पुनर्वास का प्लान बनाया जाए.

ज्ञात हो कि TISS वही संस्था है जिसने इस यौन उत्पीड़न कांड का पर्दाफाश किया था. TISS के जारी रिपोर्ट में कहा गया था कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह में बच्चियों को शारीरिक और मानसिक प्रताड़नाएं दी जाती थीं. इसका खुलासा होते ही बिहार समेत देश भर में हड़कंप मच गया था. इस मामले में कई राजनेताओं की संलिप्तता भी सामने आई थी. इस मामले के उजागर होने पर राज्य सरकार की काफी किरकिरी हुई थी.

सीबीआई कर रही मामले की जांच

इस केस की सीबीआई जांच कर रही है और सुप्रीम कोर्ट मॉनिटरिंग कर रहा है. इस कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को पुलिस ने गिरफ्तार कर मुजफ्फपुर जेल भेजा था. फिर भागलपुर जेल भेजा गया. लेकिन सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अप्रैल में ब्रजेश को पटियाला जेल में शिफ्ट कर दिया गया.

ये भी पढ़ें : धरना देने के मामले में पप्पू यादव को मिली पटना सिविल कोर्ट से जमानत

ये भी पढ़ें : मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड मामले में पानी की टंकी में सबूत खोज रही है CBI

About परमबीर सिंह 1987 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*