भाजपा विधायक का घर फूंका, राजस्थान में नहीं थम रही हिंसा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : भारत बंद के दिन सोमवार को पूरे देश में दलित समुदाय की ओर से आंदोलन किया गया. एससी–एसटी एक्ट में संशोधन की मांग को लेकर प्रदर्शन किया गया. खासकर बिहार से लेकर झारखंड, यूपी, एमपी और राजस्थान में जबर्दस्त प्रदर्शन किये गये. वहीं राजस्थान में इसके विरोध में भी लोग उतर आये हैं. राजस्थान में इसे लेकर भड़की हिंसा मंगलवार को भी नहीं थम रही है. मंगलवार को आक्रोशित भीड़ ने राजस्थान में करौली के हिंडोन सिटी में दो विधायकों के घर पर हमला कर दिया है.

मीडिया में आ रही रिपोर्ट के अनुसार भाजपा विधायक राजकुमारी जाटव और कांग्रेस के पूर्व मंत्री भरोसीलाल जाटव के घरों को आक्रोशित भीड़ ने फूंक दिया. बताया जाता है कि भीड़ में लोग इतने गुस्से में थे कि उन्होंने हॉस्टल को भी नहीं छोड़ा. गुस्साए लोगों ने अनाज मंडी स्थित एससी छात्रावास को भी आग के हवाले कर दिया. बाद में लोगों ने आग पर काबू पाया.

बताया जाता है कि आक्रोशित भीड़ ने पूर्व मंत्री भरोसी जाटव और विधायक राजकुमारी जाटव के घर के सामने नारेबाजी भी की और उनके घर में आग लगा दी. शहर में हालात पर काबू पाने के लिए कर्फ्यू लगा दिया गया है. फिलहाल पूरे इलाके में पुलिस तैनात कर दी गई है. गौरतलब है कि भारत बंद को लेकर सोमवार को दिन भर लोगों ने पूरे देश में प्रदर्शन किया. खासकर 14 राज्यों में प्रदर्शन जारी रहा. बिहार में लोग सड़कों पर निकल आये थे.

भारत बंद में हुई हिंसा पर गृह मंत्रालय ने बिहार सरकार से मांगा जवाब, दिए कई निर्देश भी

गौरतलब है कि एससी–एसटी एक्ट में आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर भारत बंद के दिन पटना समेत बिहार के भी कई जिलों में प्रदर्शन हुआ था. लोग इतने आक्रोशित थे कि कई ​रेलवे स्टेशनों पर ट्रेनों को भी बाधित किया था. बेतिया में तो ट्रेन पर पथराव किया गया था. वहीं पटना के गांधी सेतु पर लोगों को प्रदर्शन किया गया था. इसे लेकर पुलिस की ओर से सिर्फ पटना में 26 प्राथमिकी दर्ज की गयी थी.