RBI के गवर्नर उर्जित पटेल को नोटिस, संसदीय समिति में होंगे पेश

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : आरबीआई से बड़ी खबर आ रही है. आरबीआई के गवर्नर अर्जित पटेल तलब किये गये हैं. उन्हें संसदीय समिति ने बैंक घोटालों से जुड़े मामलों में नोटिस दिया गया है. वे अगले माह संसदीय समिति के समक्ष उपस्थित होंगे. इसे लेकर मंगलवार को लंबी बैठक हुई. बैठक में वित्तीय सेवा के सचिव राजीव कुमार से बैंकिंग क्षेत्र से संबंधित कई प्रश्न पूछे गये हैं. बता दें कि पिछले दिनों देश में कई बैंक घोटाले उजागर हुए. इसे लेकर ही आरबीआई गर्वनर को पेशी के लिए तलब किया गया है.

जानकारी के अनुसार वित्तीय मामलों पर संसद की स्थायी समिति ने बैंक घोटालों पर सवालों का जवाब देने के लिए रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल को तलब किया है. उर्जित पटेल को पेश होने के लिए 17 मई की डेट निर्धारित की है. मंगलवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एम वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता वाली समिति की बैठक हुई. इसमें कई बिंदुओं पर चर्चा हुई है. बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, वित्तीय सेवा सचिव राजीव कुमार समेत अन्य अधिकारी भी मौजूद थे. मनमोहन सिंह भी समिति के मेंबर हैं.

दिल्ली से आ रही खबर के अनुसार बैंक घोटालों और बैंकिंग क्षेत्र के नियमन के संबंध में आरबीआई के गवर्नर से कई बिंदुओं पर जवाब लिये जाएंगे. बताया जाता है कि समिति यह जानना चाहेगी कि आखिर उर्जित पटेल को किस तरह की शक्तियां चाहिए. समिति का मानना है कि बैंकों का नियमन एक अहम जिम्मेदारी है और इसीलिए गवर्नर को तलब किया गया है. दरअसल हाल ही में रिजर्व बैंक के गवर्नर ने कहा था कि सरकारी बैंकों से निबटने के लिए उसके पास पर्याप्त शक्तियां नहीं हैं.

पड़ताल : कैशलेस हो गया बिहार, पैसे के लिए हाहाकार, ATM-ATM भटक रहे हैं लोग

जानकारी के अनुसार समिति की बैठक में पीएनबी और आईसीआईसीआई सहित सभी सरकारी और निजी बैंकों में हुए घोटालों पर चर्चा की गई. वित्त मंत्रालय के अफसरों ने समिति में शामिल सांसदों के सवालों के जवाब भी दिये. इसके मद्देनजर उनसे कहा गया है कि वे तीन हफ्ते में सभी सवालों के पूरे जवाब दाखिल करें.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*