लाइव सिटीज डेस्क : जनता दल यूनाइटेड के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और लोकतांत्रिक जनता दल (एलजेडी) नाम से नई पार्टी बनाने वाले शरद यादव ने बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा है. शरद यादव ने बीजेपी सरकार को पिछले चार सालों के कार्यकाल में हर मोर्चे पर विफल बताते हुए कहा कि ये लोग सिर्फ झूठ की खेती करते हैं और लोगों को धोखा देते हैं. शरद यादव ने राम मंदिर के मुद्दे पर भी बीजेपी को जमकर घेरा.

योगी का काम मंदिर में घंटा बजाना

इस दौरान शरद यादव ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लेकर भी बयान दिया. उन्होंने कहा कि बीजेपी राम मंदिर के सहारे देश को गुमराह कर रही है. सीएम योगी आदित्यनाथ पर बोलते हुए शरद यादव ने कहा कि योगी का काम मंदिर में घंटा बजाना है. इन लोगों का काम मंदिर में पूजा करना है, इनका देश के संविधान से कोई वास्ता नहीं है.

राम मंदिर में कोई आस्था नहीं

इतना ही नहीं शरद यादव ने कहा कि उन्हें राम मंदिर में कोई आस्था नहीं और वह सिर्फ जिंदा इंसान की पूजा करते हैं. उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ का काम घंटा बजाना है, वो घंटा बजाएं. अपनी इस विचार के लिए शरद यादव ने संविधान का सहारा लिया. उन्होंने कहा कि जब संविधान में नहीं लिखा है तो मैं क्यों पूजा करू. संविधान में पूजा करने को कहीं नहीं लिखा है. संविधान में इन बातों का कोई मतलब नहीं है.

अद्भुत और अलबेली है मोदी सरकार

शरद यादव ने पत्रकारों से आगे बात करते हुए कहा कि महागठबंधन में नेतृत्व सामूहिक होगा. बाद में तय करेंगे कि पीएम कौन होगा. शरद यादव ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि ये अद्भुत और अलबेली सरकार है. नोटबंदी और GST ने देश को 20 साल पीछे कर दिया है. बैंकों को तबाह और बर्बाद कर दिया गया. शरद यादव ने केंद्र सरकार पर कश्मीर की बर्बादी का आरोप लगाया है. शरद यादव के राम मंदिर बयान ने राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा दी है.

यह भी पढ़ें : नरेंद्र मोदी व नीतीश कुमार पर शरद यादव का बड़ा हमला, दो सांढ़ एक साथ हो जाए तो तबाही तय है