समस्तीपुर में जेडीयू के पूर्व सांसद अश्वमेघ देवी के भाई हत्याकांड मामला में कार्रवाई, चार अपराधी गिरफ्तार…पास से हथियार बरामद

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: समस्तीपुर में जेडीयू की पूर्व सांसद अश्वमेघ देवी के भाई सुनील कुमार की हत्या मामले में पुलिस को सफलता मिली है. मामले में पुलिस ने चार अपराधियों को धर दबोचा. गिरफ्तार अपराधियों के पास से हथियार, बाइक समेत नगद बरामद किया गया है. 7 जून को लूटपाट के दौरान अपराधियों ने सुनील कुमार को गोलियों से भून दिया था.  

पूरे घटनाक्रम की बात करे तो 7 जून को समस्तीपुर जिले के सरायरंजन थाना क्षेत्र के सरायरंजन-बसढ़िया मार्ग में झखरा कॉलेज के निकट दोपहर करीब 1:30 बजे दो बाइक पर सवार पांच अपराधियों ने सीएचपी संचालक को गोलियों से भून दिया. इसके बाद उनके पास से 3 लाख 60 हजार रुपये लूटकर फरार हो गए थे. सीएसपी संचालक के शरीर में अपराधियों ने पांच गोली मारी, जिससे घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गयी थी.

सीएसपी संचालक सुनील कुमार सिंह सरायरंजन के ही वाजिदपुर मेयारी गांव के निवासी व पूर्व सांसद और जदयू जिलाध्यक्ष अश्वमेध देवी के भाई थे.  सुनील कुमार सिंह शहर के मेयारी चौक पर सेंट्रल बैंक का ग्राहक सेवा केन्द्र चलाते थे. सीएसपी के संचालन के लिए वे प्रतिदिन बैंक से रुपए लेकर सीएसपी जाते थे. घटना के दिन भी दोपहर वे बैंक से निकासी के बाद रुपये लेकर बाइक से सीएसपी जा रहे थे. उसी दौरान झखरा कॉलेज के निकट घात लगाए दो बाइक पर सवार पांच अपराधियों ने उन्हें रोक रुपये वाला बैग छीनना शुरू कर दिया, जिस पर सीएसपी संचालक ने बैग लेकर भागने का प्रयास किया. जिसके बाद अपराधियों ने उन पर ताबड़तोड़ गोली चलानी शुरू कर दी.

सीएसपी संचालक की शरीर में पांच गोलियां लगी थी. उनके गिरने के बाद बाइक से सभी अपराधी रुपये वाला बैग लेकर फरार हो गये. स्थानीय लोग सीएसपी संचालक को पीएचसी सरायरंजन ले गए जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था.