पटना में भयानक हादसा : कार सवार नाबालिगों ने शख्स को 10 किमी घसीटा, टुकड़े-टुकड़े हुई बॉडी

लाइव सिटीज सेन्ट्रल डेस्क : पटना में कार से हुई इस दुर्घटना और उसके बाद कार में फंसे शव को जिसने भी देखा वह सिहर उठा. दरअसल कार सवार नाबालिगों ने कार से पहले एक अधेड़ को धक्का मारा, जिसके बाद मृतक का शव कार में फंस गया. जिसके बाद पुलिस से बचने के लिए कारसवार छात्र तेजी से गाड़ी भगाते रहे और कार में फंसा शव टुकड़े-टुकड़े होकर जहां-तहां सड़क पर गिरता रहा। दुर्घटना के बाद छात्र करीब 10 किलोमीटर तक कार को भगाते रहे, परन्तु पुलिस और स्थानीय के मदद से उन्हें पकड़ लिया गया. इस दौरान शव इतना क्षत-विक्षत हो चुका है कि उसे पहचानना मुश्किल हो गई.

यह घटना रूपसपुर की है जहां चार कार से एक अधेड़ की मौत हो गई और उसकी लाश गाड़ी में फंस गई. कार सवार नाबालिग छात्र-छात्राएं पुलिस से बचने को तेजी से गाड़ी भगाते रहे और कार में फंसा शव टुकड़े-टुकड़े होकर जहां-तहां सड़क पर गिरता रहा। करीब 10 किलोमीटर गाड़ी भगाने के बाद उन्हें पाटलिपुत्र कॉलोनी में पकड़ा गया. कार रुकने के साथ ही उसपर सवार दो लड़कियां भाग निकलीं, जबकि दोनों छात्र भीड़ के हत्थे चढ़ गए। लोगों ने छात्रों की पिटाई शुरू कर दी। दोनों की पहचान अनिकेत चंद्रा और इशांत सिंह के रूप में हुई है।

कार अनिकेत चला रहा था जो गोसाईंटोला स्थित उषा अपार्टमेंट का रहने वाला है, जबकि इशांत उत्तरी एसकेपुरी का निवासी है। दोनों 11वीं के छात्र हैं। पुलिस किसी तरह छात्रों को भीड़ के चंगुल से छुड़ाकर पाटलिपुत्र थाने ले गई। इस बीच आक्रोशित भीड़ ने पाटलिपुत्र कॉलोनी स्थित पॉलीटेक्निक मोड़ के पास कार में तोडफ़ोड़ की तथा सड़क जाम लगा दिया।

मिल रही जानकारी के अनुसार शाम करीब साढ़े पांच बजे अनिकेत अपने दोस्त इशांत और दो लड़कियों के साथ कार से तेज रफ्तार में गाना बजाते हुए जा रहा था। रूपसपुर थाना क्षेत्र के चुल्हाई नगर में उसने सड़क पार कर रहे व्यक्ति को सामने से टक्कर मार दी। जोरदार टक्कर के बाद शव कार के पिछले हिस्से में फंस गया। इस दौरान मौके पर मौजूद लोगों ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो कार सवार डर गए और उन्होंने रफ्तार बढ़ा दी। शव घिसटता रहा और राहगीर गाड़ी के पीछे लगे रहे। बचने के लिए अनिकेत ने लिंक रोड का सहारा लिया मगर बाइक सवार लोग पीछे लगे रहे। इस दौरान शव के टुकड़े गिरते रहे।

भागने के क्रम में इंद्रपुरी रोड नंबर पांच में जब स्पीड ब्रेकर पर कार उछली, तो शव का एक बड़ा हिस्सा वहीं गिर गया। तब अनिकेत को पता चला कि शव कार में फंसा है। इसके बाद उसने गाड़ी की रफ्तार थोड़ी कम की और महेश नगर के सामने से पाटलिपुत्र कॉलोनी की तरफ भाग गया। वहां एक अपार्टमेंट के नीचे उसने दोनों युवतियों को उतारा और आगे बढ़ा कि लोगों ने उसे घेरकर पकड़ा और पीटना शुरू कर दिया।

इस बीच पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने बीच-बचाव कर छात्रों को अपनी गाड़ी में बिठा लिया। इसके बाद लोग धक्का देते हुए कार को पॉलीटेक्निक चौराहे पर लेकर गए और तोडफ़ोड़ करने लगे। भीड़ कार को फूंकने वाली थी, लेकिन पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर हालात पर काबू पा लिया। इस बीच लोगों ने सड़क जाम कर दिया।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*