जल्द निपटा लें बैंकों के जरुरी काम, हड़ताल पर जा रहे हैं बैंककर्मी, इतने दिनों तक ठप रहेगा काम

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क:  अगर बैंक में आपका कोई काम बचा हो तो उसको फटाफट निपटा लें, क्योंकि इस  सप्ताह बैंकों की बड़ी हड़ताल होने वाली है. 26 सितम्बर से बैंको में कई दिनों तक कामकाज स्थगित रहने वाली है. इस हड़ताल की वजह से चार दिनों  बैंक बंद रहने वाले है. सरकार के फैसले से नाखुश बैंक कर्मी  26 सितम्बर और 27 सितम्बर को हड़ताल पर रहेंगे. उसके बाद भी कई कारणों से बैंक में कामकाज ठप रहेगा.

दरअसल केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा कई बैंकों के विलय की घोषणा के बाद से ही बैंककर्मी नाराज हैं और वो सरकार के इस फैसले को लेकर लगातार विरोध कर रहे हैं. विलय के विरोध में  बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों ने हड़ताल करने की घोषणा की है. 26 और 27 सितम्बर को सभी बैंक कर्मी हड़ताल पर रहेंगे, जबकि 28 सितम्बर को महीना का चौथा शनिवार है जिसकी वजह से बैंक बंद रहेंगे. 29 को रविवार है जिसकी वजह से बैंकों में साप्ताहिक छुट्टी होगी. 30 सितम्बर को छमाही वार्षिक समापन होने की वजह से बैंक में कामकाज ठप रहेंगे. 1 को बैंक खुलने की संभावना है जबकि 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के अवसर पर बैंक बंद रहेंगे.

बैंको में 25 सितम्बर के बाद से ही कामकाज ठप रहेगा, इसलिए अगर आपका कोई भी बैंक से संबंधित काम बचा हुआ है तो उसे जल्द निपटा लें, वरना आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. केन्द्र सरकार द्वारा कई बैंकों के विलय की घोषणा के बाद से ही बैंककर्मी सरकार के खिलाफ आन्दोलन के मूड में हैं. ऐसे में अब इसका असर आम आदमी पर भी पड़ सकता है.  बैंक कर्मचारी  त्यौहारी सीजन शुरू होने से ठीक पहले ही बैंकों की इस हड़ताल का व्यापक असर देखने को मिल सकता है.

गौरतलब है कि 30 अगस्त 2019 को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 10 सरकारी बैंकों के विलय की घोषणा की थी. दरअसल 10 बैंकों को चार बैंकों में तब्दील किया जाएगा.दस बैंके है पंजाब नेशनल बैंक PNB, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) और यूनाइटेड बैंक का एक में विलय किया जाएंगा इसे देश का तीसरा सबसे बड़ा बैंक बनाया गया है. पंजाब नेशनल बैंक का बिजनेस 17.95 लाख करोड़ रुपये होगा साथ ही यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, आंध्रा बैंक और कॉर्पोरेशन बैंक को एक में मिलाकर देश का पांचवां सबसे बड़ा बैंक बनाया गया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*