हरलाखी की सभा में नीतीश कुमार पर फेंका गया ईंट-पत्थर, बाल-बाल बचे मुख्यमंत्री

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार के मुखिया नीतीश कुमार लगातार प्राचार कर रहे हैं. इसको लेकर सीएम मधुबनी से हरलाखी विधानसभा क्षेत्र पहुंचे. सीएम जब मंच से संबोधित कर रहे थे तभी उनपर जानलेवा हमला किया गया. सीएम जब अपने सभा के दौरान लोगों को संबोधित कर रहे थे, उसी दौरान सीएम पर पत्थर फेंका गया. हालांकि इस घटना में नीतीश कुमार बाल-बाल बच गए.

दरअसल सीएम नीतीश कुमार मंच से अतिपिछड़ा और अल्पसंख्यक को लेकर भाषण दे रहे थे. तभी भीड़ में किसी असामाजिक तत्व ने सीएम पर पत्थर फेंक दिया. इस दौरान सीएम ने बचने की कोशिश की. इस घटना को देख सीएम के बॉडीगार्ड ने उन्होंने बचाने की कोशिश की. जिसके बाद सीएम ने गुस्से में कहा कि मारे-मारे जितना मारना है मारो. हालांकि सीएम ने अपना भाषण बंद नहीं रोका. वे फिर से मुद्दे को बदलते हुए सभा जारी रखा.



सीएम ने आगे कहा कि पत्थर फेंकने से तुम्हारी समस्या कम नहीं हो जाएगी. उन्होंने कहा कि आज जो 10 लाख सरकारी नौकरी देने का वादा कर रहे हैं, जब 15 साल राज करने का मौका मिला तब कितना नौकरी दिया? उन्होंने कहा कि आपने 15 साल राज करके 95 हजार सरकारी नौकरी दी. लेकिन हमें जबसे काम करने का मौका मिला, हमने 6 लाख से अधिक नौकरी दिया है. इसके अलावा जो सुविधाएं दे रहे हैं वो अलग है.

सीएम ने कहा कि आज लोगों को पता नहीं है. हम तो ऐसा काम कर रहे हैं कि लोगों को बिहार से बाहर नहीं जाना पड़े. उन्होंने कहा कि लोग उल्टा-पुल्टा बात करते हैं. समाज में कुछ लोग ठीक नहीं हो सकता है. सीएम ने कहा कि आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है. कुछ लोगों के लिए अपना परिवार ही सबकुछ है. लेकिन मेरे लिए पूरा बिहार ही परिवार है और उसी के लिए काम करते हैं.