पटना हाईकोर्ट को बहुत जल्द मिलेंगे 8 नये जज, सुप्रीम कोर्ट ने केन्द्र सरकार से की इन नामों की सिफारिश…पढ़िए पूरी खबर

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: सबकुछ ठीक रहा तो पटना हाईकोर्ट में जजों की संख्या बहुत जल्द बढ़ जाएगी. कोर्ट को 8 नए जज मिल जाएंगे. जिसके लिए सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने इनके नाम की सिफारिश केन्द्र सरकार से कर दी है. इसके अलावे तीन अलग-अलग हाईकोर्ट के तीन जजों का तबादला पटना हाईकोर्ट में करने की सुप्रीम कोर्ट ने केन्द्र से की है.

अगर केन्द्र सरकार सुप्रीम कोर्ट की सिफारिश को हरी झंडी देती है तो कुल 11 जज पटना हाईकोर्ट को मिल जाएंगे. जिससे जजों की संख्या 19 से बढ़कर 30 हो जाएगा. फिलहाल पटना हाईकोर्ट में 19 जज हैं. जो तय संख्या से काफी कम है. लेकिन इन नये जजों के आने के बाद कुछ हद तक भारपायी हो जाएगी. बता दें कि पटना हाईकोर्ट में जजों की स्वीकृत संख्या 53 है.

जानकारी के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट के कॉलेजियम ने नवनीत कुमार पांडेय और सुनील कुमार पवार को पटना हाईकोर्ट में जज बनाए जाने की सिफारिश की है. इन दो न्यायिक सेवा के अधिकारियों के अलावा 6 वकीलों को भी पटना हाईकोर्ट का जज नियुक्त करने की सिफारिश की है. इनमें खतीम रेजा, संदीप कुमार, अंशुमान पांडेय, पूर्णेंदु सिंह, सत्यव्रत वर्मा और राजेश कुमार वर्मा के नाम शामिल हैं.

जजों की किल्लत की वजह से ही पटना हाईकोर्ट में पेंडिंग केस भी बढ़ते जा रहे हैं. वर्तमान समय में यहां 56 लाख से ज्यादा मामले सालों से पेंडिंग हैं. इनमे से 86 फीसदी मुकदमे साल भर से लेकर चार साल से ज्यादा समय से पेंडिंग हैं. जबकि 20 फीसदी मुकदमे यानी 12 लाख से ज्यादा केस 5 से 10 साल पुराने हैं. और 17 फीसदी यानी करीब 10 लाख केस की सुनवाई दस से बीस साल से अटके हैं.