सदन में रामचंद्र पूर्वे – मदन मोहन झा ने घेरा नीतीश सरकार को, बोले – ODF का दावा निकला झूठा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : आज गुरुवार को बिहार विधान मंडल में विपक्ष ने कई मुद्दों को लेकर जोरदार हंगामा किया. कांग्रेस और राजद ने ODF का मुद्दा उठाया और सदन के बाहर तक हंगामा हुआ. सीतामढ़ी विधायक और कांग्रेस नेता मदन मोहन झा इस मामले की जाँच की मांग कर रहे थे.  कांग्रेस और राजद ने सीतामढ़ी ODF मामले को लेकर नारेबाजी करते हुए सरकार पर आरोप लगाया कि इसमें घोटाला हुआ है.

कांग्रेस नेता मदन मोहन झा ने कहा कि सीतामढ़ी में ODF में बड़ा घोटाला हुआ है. जिसकी जांच करा सरकार को दोषियों पर कठोर कार्रवाई करनी चाहीए. सीतामढ़ी में बिना शौचालय बनाये ही रिकॉर्ड बनाया गया है.

राजद प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने कहा कि बिहार में शौचालय निर्माण में बड़े पैमाने पर धांधली हुई है. सीतामढ़ी में ODF के नाम पर हुआ भ्रस्टाचार हुआ है. इस पूरे मामले की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए.

आपको बता दें कि बिहार का सीतामढ़ी राज्य का पहला खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) जिला बन चुका है. डीएम डा. रणजीत कुमार सिंह इसकी घोषणा की थी.

जिलाधिकारी ने सीतामढ़ी को यह सम्मान दिलाने में खुद बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया. इस दौरान वो खुद हाथ में कुदाल लेकर गड्ढे खोदते देखे गए. जिलाधिकारी ने क्षेत्र में जागरुकता के लिए साइकिल रैली भी निकाली और शिक्षा में जागरूकता फैलाने के लिए विशाल रैली का आयोजन भी किया.

डीएम रंजीत कुमार सिंह दावा करते हैं कि उन्होंने एक दिन में 1 लाख 10 हजार गड्ढे खुदवाए. 70 हजार शौचालय सिर्फ 7 दिनों में बनवा डाले. पूरे जिले को सिर्फ 75 दिनों में ODF घोषित कर डाला.सीतामढ़ी के डीएम रंजीत कुमार सिंह दावा करते हैं कि उन्होंने एक दिन में 1 लाख 10 हजार गड्ढे खुदवाए. 70 हजार शौचालय सिर्फ 7 दिनों में बनवा डाले. पूरे जिले को सिर्फ 75 दिनों में ODF घोषित कर डाला. बता दें कि बिहार में अब तक 13 जिले ओडीएफ घोषित किए गए हैं.

About परमबीर सिंह 1524 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*