SBI के ग्राहकों को बड़ा तोहफा, अब IMPS से मनी ट्रांसफर पर भी नहीं लगेगा कोई चार्ज

sbi
प्रतीकात्मक फोटो

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अपने ग्राहकों को एक बार फिर से बहुत बड़ी राहत दी है. बैंक ने IMPS (इमिडियेट पेमेंट सर्विस) के द्वारा किए जाने वाले रुपयों के लेन-देन पर से चार्ज हटा दिया है. इस तरह स्टेट बैंक, IMPS-NEFT-RTGS सभी तरह के लेन-देन पर लगने वाले चार्जेज को हटाने वाला पहला बैंक बन गया है. स्टेट बैंक के ग्राहकों को आगामी 1 अगस्त से ऑनलाइन माध्यम से किसी भी तरह के रुपयों के लेन-देन पर कोई भी चार्ज नहीं देना पड़ेगा.

न्यूज़ एजेंसी के हवाले से मिल रही खबर के अनुसार स्टेट बैंक प्रबंधन ने आज शुक्रवार को यह कदम उठाया है. इससे पहले बैंक ने 1 जुलाई से NEFT और RTGS के माध्यम से लेन-देन पर लगने वाले चार्जेज को ख़त्म कर दिया था. बीते जून माह में रिज़र्व बैंक द्वारा ऑनलाइन भुगतान माध्यमों (NEFT-RTGS) पर से शुल्क हटाये जाने के फैसले के बाद बैंक ने यह निर्णय लिया है.

ग्रामीण बैंकों में भर्ती परीक्षा अब 13 लैंग्वेज में होगी, नौकरी पाने में मिलेगी मदद

रिज़र्व बैंक (RBI) ने जून माह में ऑनलाइन भुगतान के उक्त दोनों माध्यमों पर से शुल्क हटाने का निर्णय लिया था. RBI ने इसके बाद अन्य बैंकों से भी इसका लाभ अपने उपभोक्ताओं को देने का कहा था. देश के सर्वोच्च बैंक ने ऑनलाइन भुगतान को बढ़ावा देने के मकसद से यह कदम उठाया था. इस फैसले के बाद ही SBI ने पहल करते हुए 1 जुलाई से NEFT-RTGS पर से शुल्क हटाने का निर्णय लिया था.

क्या है IMPS, NEFT और RTGS

ऑनलाइन भुगतान माध्यमों में 24 घंटे रूपये ट्रांसफर करने के लिए इमिडियेट पेमेंट सर्विस (IMPS) का इस्तेमाल किया जाता है. इसके अलावा नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर (NEFT) का इस्तेमाल दो लाख रूपये तक के भुगतान के लिए होता है. वहीँ रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) सुविधा का उपयोग तुरंत किये जाने वाले बड़े भुगतानों में होता है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*