डिप्टी सीएम का बंगला खाली कर रहे हैं तेजस्वी यादव, सभी बैनर-पोस्टर हटाए गए

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : पिछले काफी समय से चल रहे बंगला विवाद का अंततः अंत हो ही गया और बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बुधवार को उपमुख्यमंत्री के लिए आवंटित 5 देशरत्न मार्ग स्थित बंगला को खाली करना शुरू कर दिया है. पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट से मिली निराशा के बाद अब तेजस्वी ने बंगला को खाली करना शुरू कर दिया है. बुधवार की सुबह-सुबह ही तेजस्वी के आवास से सारे बैनर- पोस्टर के अलावे उनके नेम प्लेट को भी हटा दिया गया है.

बता दें कि 8 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट ने भी याचिका खारिज कर दिया और इसके साथ ही तेजस्वी यादव पर कोर्ट ने 50 हजार रुपये का जुर्माना भी ठोक दिया. ऐसे में अब तेजस्वी यादव को पटना के 5 देशरत्न मार्ग स्थित बंगले को तो छोड़ना ही था, साथ ही साथ कोर्ट में 50 हजार रुपये भी चुकाने पड़ेंगे.

कुंभ मेले में लगी आग, बाल-बाल बचे बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन

सुप्रीम कोर्ट में तेजस्वी यादव के बंगले को लेकर सुनवाई हुई. जिसमे कोर्ट ने साफ़ शब्दों में कह दिया कि आप जानते हैं कि यह बंगला तो उप मुख्यमंत्री के लिए आवंटित किया जाता है, तो आप किस आधार पर बंगले पर अधिकार जमाये हुए है? सुनवाई के दौरान उच्चम न्यायालय ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव की याचिका को खारिज करते हुए उनपर 50 हजार रुपये का जुर्माना भी ठोका है.

क्या है पूरा मामला

गौरतलब है कि उप मुख्यमंत्री रहते हुए तेजस्वी यादव को पटना के 5 देशरत्न मार्ग स्थित बंगला आवंटित किया गया था. वो अभी भी इसी बंगले में रह रहे हैं, लेकिन अब बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी हैं, इसलिए सरकार ने बंगला खाली करने के लिए कहा था. वहीं, एक पोलो रोड में आवंटित बंगला तेजस्वी यादव को दिया गया था, लेकिन पहले इसमें सुशील मोदी रहते थे. उन्होंने इसे खाली भी कर दिया था.

अब 12वीं के बाद ही कर सकेंगे बीएड, केंद्रीय HRD मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने जारी किया निर्देश

इस मामले को लेकर पटना हाईकोर्ट ने तेजस्वी के खिलाफ फैसला सुनाया था, जिसके बाद तेजस्वी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की. परन्तु शुक्रवार को हुए सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने भी तेजस्वी की याचिका खारिज करते हुए , बंगला खाली करने का आदेश दे दिया.

About परमबीर सिंह 630 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*