कर्नाटक में बने सरकार के खिलाफ धरने पर बैठ गए हैं यशवंत सिन्हा, बोले IPL चल रहा है

Karnataka elections 2018, Assembly Elections 2018, Yashwant Sinha, Governor, कर्नाटक चुनाव 2018, यशवंत सिन्हा, येदियुरप्पा, बीजेपी
यशवंत सिन्हा (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : कर्नाटक में बनी भाजपा की सरकार का हर ओर विरोध हो रहा है. एक ओर जहां कांग्रेस आज पूरे देश में ‘संविधान बचाओ दिवस’ मनाने जा रही है तो वहीं बिहार में राजद नेता तेजस्वी यादव भी आज राज्यपाल सत्यपाल मलिक के सामने राजद की सरकार बनाने के लिए परेड करेगी. इधर बीजेपी से अपना नाता तोड़ चुके भाजपा के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा भी कर्नाटक के घमासान में कूद पड़े हैं.

‘असंवैधानिक’ कदम से ‘लोकतंत्र की हत्या’

भाजपा के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा ने गुरुवार 17 मई कटाक्ष किया कि कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला के राज्य में सरकार बनाने के लिए भाजपा को आमंत्रित करने से ऐसी स्थिति पैदा हो गई है जिसमें इंडियन प्रीमियर लीग में क्रिकेटरों की नीलामी की तरह विधायकों की ‘इंडियन पॉलिटिकल लीग’ के तहत नीलामी की जायेगी. सिन्हा ने राज्यपाल के निर्णय के खिलाफ राष्ट्रपति भवन के बाहर विरोध जताया और आरोप लगाया कि इस ‘असंवैधानिक’ कदम से ‘लोकतंत्र की हत्या’ हुई है.

उन्होंने कहा कि यह देश की राजनीतिक व्यवस्था की ‘‘कमजोरी’’ है कि इस तरह के मामलों में वह न्याय देने में विफल रहा. सिन्हा ने ट्वीट किया कि कर्नाटक का घटनाक्रम 2019 के लोकसभा चुनावों के बाद दिल्ली में होने वाली गतिविधियों का पूर्वाभ्यास है. उन्होंने कहा ,‘‘ भाजपा के पास बहुमत के लिए आठ विधायक कम है. अब वह (बहुमत साबित करने के लिए) आवश्यक संख्या कहां से जुटायेगी?’’

सिन्हा ने कहा ,‘‘राज्यपाल ने ठीक उसके विपरीत किया जो उनसे संविधान के तहत किये जाने की उम्मीद थी. क्रिकेट में आईपीएल की तरह ही राज्यपाल के निर्णय से इंडियन पॉलिटिकल लीग बन गई है जहां विधायकों की नीलामी की जायेगी. यह लोकतंत्र की हत्या है।’’ राज्यपाल पर निशान साधते हुए उन्होंने कहा कि यदि राज्यपाल ‘‘पार्टियों के सिपाहियों’’ के रूप में काम करना शुरू कर देंगे तो लोकतंत्र काम नहीं करेगा.

यह भी पढ़ें : कांग्रेस आज देशभर में मनाएगी ‘लोकतंत्र बचाओ दिवस’, बिहार में RJD करेगी परेड

About Razia Ansari 1031 Articles
बोल की लब आज़ाद हैं तेरे, बोल जबां अब तक तेरी है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*