शनिवार को नियम तोड़ने वाले वाहन चालकों से 2.50 लाख रूपए वसूला गया जुर्माना

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : परिवहन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल के निर्देश पर शनिवार को बिहार के सभी जिलों में हेलमेट और सीट बेल्ट जांच के लिए सघन जांच अभियान चलाया गया. बिना हेलमेट, सीट बेल्ट और यातायात के अन्य नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों पर करवाई की गई. नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों को चालान काट कर उनसे जुर्माना वसूला गया. जिलों में यह अभियान डीटीओ, एमवीआई और ईएसआई द्वारा अलग अलग विभिन्न जगहों पर चलाया गया.

सभी जिलों में शनिवार को चलाए गए विशेष अभियान के दौरान कुल 2700 वाहनों की जांच की गई, जिसमें 1250 वाहन चालकों से 2.50 लाख रुपया जुर्माने के तौर पर वसूली की गई. जांच के क्रम में डीटीओ, एमवीआई और ईएसआई द्वारा बिना हेलमेट पहने वाहन चलाने वाले वाहन चालकों से खुद की सुरक्षा के लिए हेलमेट पहनने का आग्रह किया गया. साथ ही आगाह किया गया कि बार-बार नियमों का उल्लंघन करते पकड़े गए तो वाहन चालक का लाइसेंस रद्द करने की कार्रवाई की जाएगी.



परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने लोगों से अपील की है कि हेलमेट प्रशासन और पुलिस के लिए नहीं, बल्कि अपने परिवार के लिए और अपनी सुरक्षा के लिए पहनें. दोपहिया चालकों को हेलमेट पहनना और चारपहिया वाहन चालकों को सीट बेल्ट लगाना अनिवार्य है. अगर वाहन चालक यातायात के नियमों का पालन करते हुए हेलमेट और सीट बेल्ट का प्रयोग करें तो सड़क दुर्घटना में नुकसान को काफी हद तक कम किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें : परिवहन सचिव ने दी चेतावनी,कहा-शोरुम से बिना हाई सिक्यूरिटी नंबर प्लेट की नहीं निकलेगी नई गाड़ियां

परिवहन सचिव ने बताया कि सड़क सुरक्षा के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है. सड़क दुर्घटनाओं में कमी आये इसके लिए लोगों को न सिर्फ जागरूक किया जा रहा है, बल्कि उनपर करवाई भी की जा रही है. जिलों में एनसीसी कैडेट्स के सहयोग से भी कई तरह के कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं. ट्रैफिक गेम , पेंटिंग प्रतियोगिता, आदि के द्वारा लोगों को जागरूक किया जा रहा है और सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करने की अपील की जा रही है. यह समय समय पर लगातार जारी रहेगा.