मधुबनी में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर बनाए गए 22 कंटेंटमेंट जोन, 1.58 लाख लोगों का हुआ वैक्सिनेशन

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर गुरुवार को जिला पदाधिकारी अमित कुमार ने प्रेस वार्ता की. प्रेस वार्ता में डीएम ने कहा कि कोरोना वायरस से लड़ाई में कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग सबसे ज्यादा अहम है. जिससे न सिर्फ वायरस से संक्रमित लोगों का पता लगाया जा रहा है, बल्कि ऐसे लोग जो संक्रमित के संपर्क में आये हैं, उनकी खोज भी की जा रही है. जिले के सभी प्रखंडों में संक्रमित लोगों के संपर्क में आए लोगों की जांच कर कोविड संक्रमित लोगों का पता किया जा रहा है. डीएम ने कहा कि वर्तमान में 63 कोरोना पॉज़िटिव मरीज हैं. जिसमें 57 मरीज होम आइसोलेशन तथा 6 मरीज कोविड केयर सेंटर रामपट्टी में इलाजरत हैं. कोरोना संक्रमित मरीज के लिए बेड की कोई कमी नहीं है. जिले में बाहर के राज्यों से आने वाले 16 लोग कोरोना संक्रमित पाये गए हैं , 14 लोग क्लोज कॉन्टैक्ट के कारण पॉजिटिव हुए है.

जिले में बनाए गए 22 कंटेंटमेंट जोन

डीएम ने बताया कि जिले मेंवर्तमान में जिले में 22 कंटेंमेंटमेंट जोन बनाया गया है. जिसमें रहिका में 10, पंडौल में1, विस्फी में 2, बेनीपट्टी में 3, हरलाखी में 1, मधेपुर में 1, राजनगर में 1, अंधराठाढ़ी में 1, बाबूबरही में 2 कंटेंटमेंट जोन बनाया गया है.

जिले में 1.58 लाख लोगों का हुआ वैक्सिनेशन

जिले में अब तक 1 लाख 58 हजार 494 लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है. जिसमें 15,966 हेल्थ केयर वर्कर को प्रथम डोज,11509 हेल्थ केयर को सेकंड डोज, 8,649 फ्रंटलाइन वर्कर को प्रथम डोज, 3434 फ्रंटलाइन वर्कर को सेकंड डोज, 92,560 लोग जो 60 वर्ष से ऊपर के हैं. को प्रथम डोज, 1839 को सेकंड डोज तथा 45 से 59 वर्ष के 24,077 लोगों को प्रथम डोज, 460 लोगों को सेकंड डोज दिया जा चुका है. डीएम ने आम लोगो से भीड़ भाड़ से बचने, मास्क लगाने एवं सामाजिक दूरी का अनुपालन करने का अपील किया है. प्रेस वार्ता में डीपीआरओ शैलेन्द्र कुमार, प्रभारी सिविल सर्जन डॉ. एस एस झा मौजूद थे.