झारखंड के बोकारो में साइबर क्रिमिनल गैंग का खुलासा, सरगना बिहार के नालंदा का रहनेवाला

बोकारो में शुक्रवार को साइबर क्रिमिनल गैंग के गिरफ्तार अपराधियों के बारे में जानकारी देते पुलिस अधिकारी.

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : झारखंड से बड़ी खबर आ रही है. इस खबर का सीधा संबंध बिहार से है. झारखंड की बोकारो पुलिस ने साइबर क्रिमिनल गैंग का बड़ा खुलासा शुक्रवार को किया है. इस गैंग के 4 अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर कई बड़े खुलासे किये. लेकिन सबसे चौंकानेवाली खबर गैंग के सरगना को लेकर है. सरगना बिहार के नालंदा का रहनेवाला है. हालांकि सरगना दीपक साव उर्फ दीपू अभी तक गिरफ्तार नहीं हुआ है.

दरअसल झारखंड का बोकारो साइबर क्राइम का अड्डा बन चुका है. बोकारो पुलिस को अंतराज्यीय साइबर ​अपराधी गिरोह के बारे में जानकारी मिली. इसके बाद पुलिस ने अपना जाल बिछाया. इसमें उसे सफलता भी मिली. पुलिस ने बोकारो स्टील सिटी के सेक्टर-8बी से चार साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया.

बोकारो पुलिस के अनुसार यह गिरोह सैकड़ों लोगों को अब तक ठग चुका है. खास बात कि अलग-अलग राज्यों में लोगों को चूना लगानेवाले इस साइबर क्रिमिनल गैंग के सरगना दीपक कुमार साव बिहार के नालंदा का रहनेवाला है. बोकारो पुलिस के अनुसार दीपक की तलाश में पुलिस जल्द ही नालंदा आएगी.

पुलिस ने मीडिया को यह भी जानकारी दी कि गिरफ्तार अपराधियों के पास से काफी संख्या में फर्जी सिम, पैन कार्ड, एटीएम कार्ड, पासबुक, चेकबुक आदि बरामद किये गये हैं. महान से काफी संख्या में लैपटॉप और मोबाइल भी मिले हैं. पुलिस मोबाइल और लैपटॉप को खंगाल रही है. मोबाइल से किये गये कॉल का रिकॉर्ड भी निकालेगी. इसके आधार पर और भी बड़े खुलासा होने की उम्मीद है.

पुलिस अधिकारी के अनुसार गिरोह के सरगना दीपक उर्फ दीपू के अलावा अन्य 15 साइबर अपराधियों की पहचान की गई है. ये अपराधी पेटीएम, फ्लिपकार्ट और होम शॉप 18 जैसी फेमस कंपनियों के नाम पर ठगी करते थे. अब तक ये लोग 20 लाख रुपये से अधिक की ठगी कर चुके हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*