बिहार : छठे चरण में 47 नामांकन रिजेक्ट, अब चुनावी मैदान में बचे 182 प्रत्याशी

General-Elecation
प्रतीकात्मक फोटो

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में तीन चरणों में 14 लोकसभा सीटों पर चुनाव हो चुका है. छठे चरण में लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए कई उम्मीदवारों ने नामांकन किए हैं. चुनाव आयोग ने छठे चरण में 47 नामांकन रिजेक्ट कर दिए हैं. अब चुनावी मैदान में 182 प्रत्याशी ही बचे हैं. 26 अप्रैल तक नाम वापसी का आखिरी दिन है. वहीं, 12 मई को छठे चरण के लिए मतदान होगा.

बिहार के अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने प्रेस ब्रीफ के दौरान बताया कि छठे चरण वाले संसदीय क्षेत्रों के नाम निर्देशन पत्रों की स्क्रूटनी 24 अप्रैल को की गई. जिसके बाद वाल्मीकिनगर में 13, पूर्वी चंपारण में 25, पश्चिमी चंपारण में 10, शिवहर में 18, महारागंज में 11, गोपालगंज में 13, वैशाली में 22 एवं सीवान में 20 उम्मीदवार चुनाव लड़ने के काबिल पाए गए हैं.

गौरतलब है कि वाल्मीकिनगर से 04, पूर्वी चंपारण से 00, पश्चिमी चंपारण से 08 शिवहर से 08, महाराजगंज से 05, गोपालगंज से 04, वैशाली से 14 एवं सीवान से 04 नाम निर्देशन पत्र रद्द किये गये हैं. इनके लिए अभ्यर्थिता वापसी की तिथि 26 अप्रैल नियत है. जिसके बाद छठे चरण के संसदीय क्षेत्रों के अभ्यर्थियों की संख्या स्पष्ट हो जाएगी. छठे चरण में बिहार के वाल्मीकिनगर, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, शिवहर, वैशाली, गोपालगंज, सीवान और महाराजगंज में मतदान होना है.

वहीं, अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने सातवें चरण को लेकर बताया कि  इस चरण के संसदीय क्षेत्रों में नामांकन के चौथे दिन यानि 25 अप्रैल को  49 नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये गये हैं. बता दें कि सातवें चरण में नालंदा, पाटलिपुत्र, बक्सर, जहानाबाद, पटना साहिब, आरा, सासाराम, काराकाट लोकसभा क्षेत्र तथा डेहरी विधानसभा क्षेत्र शामिल है.

ये भी पढ़ें : BREAKING: शिवहर लोकसभा के उम्मीदवार अंगेश सिंह का नामांकन रद्द

About परमबीर सिंह 1801 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*