पटना के आसरा होम से लड़की भगाने की कोशिश में थे 50 साल के बनारसी बाबू, अब जायेंगे जेल

PATNA-AASRA-HOME11,Patna News, Bihar News, khabar bihar, bihar khabar, हिंदी बिहार न्यूज़, बिहार खबर, Bihar, बिहार, Patna, पटना , पटना न्यूज़, बिहार न्यूज़, न्यूज़, livecities, Bihar Samachar, Patna Samachar, बिहार समाचार, पटना समाचार, हिंदी समाचार,
इसी आसरा होम से लड़की को भगाने की हुई है कोशिश

लाइव सिटीज, पटना से अमित जायसवाल के साथ : राजधानी के राजीव नगर के 90 फ़ीट इलाके में चलने वाले एक आसरा होम से एक लड़की को भगाने की तैयारी चल रही थी. लड़की को भगाने की कोशिश आसरा होम के ही बगल में रहने वाले रामनगीना सिंह उर्फ़ बनारसी कर रहे थे. बनारसी के घर की खिड़की के बगल में ही आसरा होम की भी खिड़की थी. बनारसी ने लड़की को खिड़की काटने के लिए आरी भी दी थी. इस आरी से खिड़की को काफी हद तक काट भी डाला गया था, लेकिन जब यह कोशिश सफल नहीं हो पाई तो बनारसी ने ही लड़की के भागने की बात कहकर इलाके में हल्ला कर दिया.

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड और अन्य आश्रय गृहों से लगातार सामने आ रही ख़बरों की वजह इस घटना की सूचना मिलते ही पटना पुलिस एक्टिव हो गई. खुद आईजी नैय्यर हसनैन खान ने मामले की पूरी जांच करने का निर्देश एसएसपी मनु महाराज को दिया. इसके बाद सिटी एसपी के आदेश पर DSP मनोज कुमार सुधांशु ने राजीव नगर के थानेदार रोहन कुमार और पुलिस टीम के साथ पूरे मामले की जांच की और कुछ ही घंटों में इसका खुलासा कर दिया.

सिंगला कंस्ट्रक्शंस के पटना ऑफिस पर IT की रेड, हजारों करोड़ कम दिखाया टर्न ओवर

DSP मनोज कुमार सुधांशु ने बताया कि उन्होंने इस मामले में रामनगीना सिंह उर्फ़ बनारसी को अरेस्ट कर लिया है. उनपर लड़की से छेड़खानी और गन्दी नियत से भगाने को लेकर जो भी विधिसम्मत धाराएं होंगी, उनके आधार पर मामला दर्ज किया जाएगा. उन्होंने बताया कि उक्त लड़की से भी बात की गई है. उसने भी बनारसी के खिलाफ गंदी बातें करने और प्रलोभन देकर बहलाने-फुसलाने का आरोप लगाया है.

PATNA-AASRA-HOME12, Patna News, Bihar News, khabar bihar, bihar khabar, हिंदी बिहार न्यूज़, बिहार खबर, Bihar, बिहार, Patna, पटना , पटना न्यूज़, बिहार न्यूज़, न्यूज़, livecities, Bihar Samachar, Patna Samachar, बिहार समाचार, पटना समाचार, हिंदी समाचार,
जांच के बाद घटना की जानकारी देते DSP मनोज कुमार सुधांशु

आज इस मामले की जानकारी सबसे पहले आसरा होम के मकान मालिक डॉ सुरेंद्र प्रसाद यादव को मिली. जब वे पहुंचे तो उन्होंने खिड़की का ग्रिल कटा हुआ देखा था. इसके बाद उन्होंने NGO की ट्रेजरर को फ़ोन कर इसकी जानकारी दी. माना जा रहा है कि ऐसा होते देखकर ही बनारसी ने भी खुद को बचाने के लिए हल्ला किया होगा. फिलहाल पुलिस उससे पूछताछ में लगी है और खबर लिखे जाने तक मामले में FIR की कार्रवाई की जा रही है.

Patna News, Bihar News, khabar bihar, bihar khabar, हिंदी बिहार न्यूज़, बिहार खबर, Bihar, बिहार, Patna, पटना , पटना न्यूज़, बिहार न्यूज़, न्यूज़, livecities, Bihar Samachar, Patna Samachar, बिहार समाचार, पटना समाचार, हिंदी समाचार,
इसी खिड़की का ग्रिल काटने की हुई थी कोशिश

पहले से जमीन कब्जाने का दर्ज है मामला

पुलिस की जांच में यह बात भी सामने आई है कि रामनगीना सिंह उर्फ़ बनारसी पर साल 2017 में जमीन कब्जाने और रंगदारी का एक मामला भी दर्ज है. वह मामला राजीव नगर थाना में ही कांड संख्या 114/17 है. करीब 50 वर्षीय बनारसी के बारे में बताया गया है कि वह यहां अकेले रहता है. वह काफी दिनों से लड़की को भगाने की कोशिश में लगा हुआ था. हाल के दिनों में ही उसने कई बार लड़की को आम लीची देकर भी फुसलाने की कोशिश की थी.

अप्रैल 2018 से चल रहा है आसरा होम

अनुमाया ह्यूमन रिसोर्सेज फाउंडेशन नाम की NGO इस आसरा होम को चला रही है. NGO के सचिव चरिंतन कुमार के अनुसार ये आसरा होम मेंटली डिसेबल महिलाओं-बच्चों के लिए हैं. अभी यहां 75 महिलाएं और बच्चे रहते हैं.

About Anjani Pandey 612 Articles
I write on Politics, Crime and everything else.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*