बिहार में लू से अब तक 83 लोगों की मौत, आपदा प्रबंधन विभाग ने जारी किया आंकड़ा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में चमकी बुखार यानि AES का कहर जारी है, तो दूसरी तरफ गर्मी ने भी तांडव मचाया है. बिहार में लू जानलेवा बन गया है. अब तक लू लगने से प्रदेश में 83 लोगों की मौत हो गई है. आपदा प्रबंधन विभाग ने आंकड़ा जारी कर बताया है कि औरंगाबाद जिले में हीट वेब से 34 की मौत, गया में 35 और नवादा में 16 लोगों की मौत हुई है.

हीट वेब से मौत पर बिहार के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कहा है कि 15 जून को दोपहर 3 बजे से शाम 5 बजे तक लू का असर सबसे ज्यादा रहने की जांच की जाएगी. अगले चार दिनों में सीएम के आदेश पर सामाजिक और पर्यावरण संबंधी सर्वे किए जाएंगे.

लू के चलते बिहार के इन 6 जिलों में धारा 144 लागू

बिहार में लू का कहर लगातार जारी है. इसको देखते हुए 6 जिलों में डीएम ने धारा 144 लागू कर दिया है. मीडिया रिपोर्ट की माने तो लू के चलते सूबे में अभी तक 100 से अधिक लोगों की मौत हो गई है जबकि कई लोग अस्पतालों में भर्ती है. सरकार द्वारा लोगों को बचाने के लिए जहां राहत और बचाव का काम जारी है वहीं कई जिलों में धारा 144 लगा दी गई है.

ये भी पढ़ें : 15 जून की शाम अचानक गर्मी बढ़ने के कारणों की जांच करायेगी बिहार सरकार

ये भी पढ़ें : मौसम की सटीक जानकारी के लिए बिहार का कर्नाटक से करार, कई जिलों को होगा फायदा

बता दें कि सोमवार को गया जिले में डीएम ने धारा 144 लागू किया गया था. आज बिहार के अन्य 5 जिलों में भीषण गर्मी को देखते हुए धारा 144 लागू कर दिया गया है. इन जिलों में शामिल है – बेगूसराय, दरभंगा, जहानाबाद, गोपालगंज, मधुबनी और सीतामढ़ी शामिल है. बताया जा रहा है कि इस आदेश के तहत सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक सरकारी और गैर-सरकारी निर्माण पर रोक लगाई गई है. साथ ही 11 बजे से शाम 4 के बीच खुले जगहों पर समारोह आयोजित कराने पर भी रोक लगा दी गई है.

About परमबीर सिंह 2196 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*