हमसफर एक्सप्रेस की ये नौ खासियत, बनाती हैं इसे सबसे खास  ट्रेन,आप भी जान लिजीए

hamsafar
hamsafar pic credit google

पटना। पाटलिपुत्रा स्टेशन से आज नई हमसफर एक्सप्रेस ट्रेन उदयपुर के लिए शुरू हो चुकी है. ये ट्रेन वाया लखनऊ होंकर उदयपुर तक पहुचेगी.  हमसफर एक्सप्रेस पाटलिपुत्र स्टेशन से प्रत्येक शुक्रवार को उदयपुर के लिए खुलेगी. उदयपुर सिटी-पाटलिपुत्र एक्सप्रेस के बीच चलने वाली डाउन हमसफर ट्रेन का नंबर 19669 और पाटलिपुत्रा से उदयपुर सिटी के बीच हमसफर ट्रेन का 19670 होंगा।

आपको बता दे कि उदयपुर सिटी-पाटलिपुत्र एक्सप्रेस दोपहर 12ः20 बजे रवाना होंगी जो अगले दिन सुबह 10ः20 बजे लखनऊ होते हुए रात सवा नौ बजे पाटलिपुत्र पहुंचेगी। वहीं वापसी में ये ट्रेन पाटलिपुत्र-उदयपुर सिटी एक्सप्रेस (19670) प्रत्येक शुक्रवार को पाटलिपुत्र से रात 12ः10 बजे चलकर दोपहर 12ः10 बजे लखनऊ पहुंचेगी। यहां से यह सुबह 8ः20 बजे उदयपुर सिटी पहुंचेगी।

ये होगे ट्रेन के स्टौपेज :- हमसफर एक्स्प्रेस दोनो ओर से दानापुर, आरा, बक्सर, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, वाराणसी, सुल्तानपुर, कानपुर, कन्नौज,फर्रुखाबाद, कासगंज, हाथरस सिटी, मथुरा, भरतपुर, सवाई माधोपुर, कोटा, बूंदी, चन्दरिया व मावली स्टेशनों पर रुकते हुए अपने गंतव्य तक पहुचेंगी।

क्या हैं खास फीचर्स :- थर्ड एसी कोंचों वाली इस ट्रेन में कुल 16 बोगियां होगी। हमसफर एक्स्प्रेस की शुरूआत हीं भारतीय रेलवे के यात्रियों को लक्जरी और आरामदायक सुविधा देने को लेकर की गई थी। जाहिर सी बात हैं कि पाटलिपुत्रा से शुरू होनेवाली इस हमसफर में भी कई सारी अरामदायक सुविधायें होगी। वहीं समय के साथ हीं इस ट्रेन में अत्याधुनिक सुविधाओं को अपग्रेड भी किया गया है।

hamsafar
hamsafar

जीपीएस आधारित यात्री सूचना प्रणाली से लैंस है हमसफर

-अन्य हमसफर एक्सप्रेस ट्रेनों के जैजिसमेंसे हीं पाटलिपुत्रा से चलनेवाली इस हमसफर एक्स्प्रेस ट्रेंन में जीपीएस आधारित यात्री सूचना प्रणाली, और अग्नि और धुएं डिटेक्टर जैसी सुविधाएं शामिल दी गई है।

-हमसफर एक्सप्रेस ट्रेंनों के कोच में यात्रियों के मोबाईल और लैंपटॉप चार्जिग के लिए मोबाइल चार्जिंग पॉइंट्स की व्यवस्था होंगी। इसके साथ हीं उपर के बर्थ पर चढ़ने के लिए अरामदायक कलाइंबिंग सुविधा दी गई है।

-ट्रेन के हर कोच में शिशु की नैपी बदलने वाले पैड, और चाय-कॉफी बनाने वाली मशीनों की सुविधाएं भी हैं।

कुछ और खास और नई नई सुविधाएं

  •  हमसफर एक्सप्रेस गोपनीयता बनाए रखने के लिए एसी -2 जैसे हीं गलियारे पर साइड पर्दे दिए गए हैं।
  • यात्रियों को ट्रेन की गति और स्टेशनो की जानकारी के लिए एलईडी स्क्रीन लगें हैं जो वक्त वक्त पर यात्रियों को यें जानकारियां देतं रहतें है।
  • हमसफर एक्सप्रेस के बाहरी हिस्से में विनाइल शीट्स के हैं तो इसे एक फ्यूचरिस्टिक लुक देंते हैं।
  •  खादी के बैडरोल के साथ हमसफर एक्सप्रेस की बर्थ अन्य सभी ट्रेंनो की बर्थो से काफि ज्यादा अरामदायक हैं।
  •  हमसफर एक्सप्रेस के कोचों में घर से लाए गए भोजन को संरक्षित करने के लिए एक हीटिंग कक्ष और एक रेफ्रिजरेटिंग बॉक्स है।
  • इसके अलावा यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखतें हुए हमसफर एक्सप्रेस के हर कोंच को सीसीटीवी कैंमरे से लैंस किया गया है।

इस ट्रेन के परिचालन से अब गंगा के उस पार के यात्रियों को भी पाटलिपुत्र स्टेशन से कोटा जाने के में काफी सुविधाएं मिलेगी. उद्घाटन कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव के साथ-साथ विधायक संजीव चौरसिया और दानापुर डीआरएम के अलावा अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

आपको बताते चले कि इससे पहले सेंन्ट्रल रेंलवे को तीन हमसफर एक्स्प्रस पहले ही सौगात के रुप में मिल चुके हैं। जिसमें गोरखपुर से आनंदविहार, कटिहार से पुरानी दिल्ली और इलाहाबाद से न्यू दिल्ली के बीच हमसफर एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन हो रहा है। बताते चले कि बिहार से चलनेवाली ये दूसरी हमसफर ट्रेन होगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*