नहीं रहीं ‘अम्मा’, तमिलनाडु में 7 दिन का राजकीय शोक

चेन्नई/नई दिल्ली:  सोमवार की रात जैसे ही तमिलनाडु की मुख्यमंत्री और लोकप्रिय नेता जे जयललिता के निधन की खबर आई. अपोलो अस्पताल के बाहर सन्नाटा पसर गया. अस्पताल के बाहर सभी आंखें नम हो गईं.  शोक की ऐसी लहर दौड़ी कि सभी मौजूद लोग बेजान से हो गए.  सभी मौजूद लोग तो ये एहसास भी नहीं कर पा रहे थे कि उनकी अम्मा उन्हें छोड़कर चली गई हैं.

अम्मा की मौत के बाद  देश ने एक बड़ा नेता खो दिया है. 75 दिन अस्पताल में रहने के बाद जयललिता ने चेन्नई के अपोलो अस्पताल में आखिरी सांस ली.amm3

मौत की खबर से पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई है. हर आँख जार-जार है .  जयललिता का पार्थिव शरीर फिलहाल राजाजी हॉल में अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है.  amma1

उनके अंतिम दर्शन के लिए लोगों की भारी भीड़ इकट्ठी हो गई है. जयललिता का अंतिम संस्कार मरीना बीच पर एमजीआर समाधि के पास शाम 4:30 बजे होगा.  amma2

तमिलनाडु सरकार ने मुख्यमंत्री जे. जयललिता के निधन पर सात दिन के राजकीय शोक की घोषणा की. मुख्य सचिव पी राम मोहन राव ने एक सूचना जारी कर कहा कि इस अवधि में सभी सरकारी भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा. इस दौरान कोई आधिकारिक मनोरंजन भी नहीं होगा. वहीं, स्कूल-कॉलेज भी तीन दिनों के लिए बंद रहेंगे.amma4

आपको बता दें कि रविवार की शाम जयललिता को कार्डिएक अरेस्ट हुआ था. जिसके बाद उन्हें अपोलो अस्पताल के प्राइवेट वार्ड से आईसीयू में भर्ती किया गया था. अब चेन्नई के अपोलो अस्पताल ने निधन की पुष्टि कर दी. सोमवार रात तकरीबन 11.30 बजे जयललिता का निधन हुआ.whatsapp-image-2016-12-06-at-07-42-47

आम जनता के दर्शन के लिए जयललिता के पार्थिव शरीर को राजाजी हॉल में रखा जाएगा. जयललिता के शव को अस्पताल से उनके घर पोएस गार्डन ले जाया जाएगा. इसके लिए अस्पताल से उनके घर तक विशेष कॉरीडोर बनाया गया. अस्पताल से लेकर उनके घर तक सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं.whatsapp-image-2016-12-06-at-08-07-40

जयललिता को कैसे मिली थी पार्टी की कमान

दिसंबर 1987 में एम.जी रामाचंद्रन की मृत्यु के बाद जयललिता को उनका उत्तराधिकारी बनाने के लिए एमजीआर की पत्नी जानकी से एक तीखा चुनाव लड़ना पड़ा. जानकी खुद अपना चुनाव हार गईं. जयललिता नेता विपक्ष बनने के साथ ही एमजीआर की असली उत्तराधिकारी बन गईं.

यह भी पढ़ें- अम्मा की फोटो लिए पन्नीरसेल्वम ने ली सीएम पद की शपथ

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*