PUSU में छाया भगवा, सेंट्रल पैनल में तीन सीट ABVP के नाम

अध्यक्ष दिव्यांशु भारद्वाज, ऊपर से - उपाध्यक्ष योषिता पटवर्धन, जेनरल सेक्रेटरी सुधांशु भूषण झा, जॉइंट सेक्रेटरी मो. असजद उर्फ आजाद चांद, कोषाध्यक्ष नीतीश कुमार

लाइव सिटीज, पटना से देबांशु के साथ : पटना यूनिवर्सिटी में एक बार फिर भगवा रंग नजर आएगा. पटना यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स यूनियन इलेक्शन में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ने सेंट्रल पैनल में उपाध्यक्ष सहित तीन पद अपने कब्जे में कर लिए हैं. PUSU के अध्यक्ष पद पर जीते दिव्यांशु भारद्वाज भी ABVP से बागी निर्दलीय उम्मीदवार थे. अन्य पार्टियों में एकमात्र सफलता जन अधिकार छात्र परिषद (JACP) को मिली है. JACP के मो. असजद को जॉइंट सेक्रेटरी पद पर जीत मिली है.

शनिवार-रविवार की देर रात 3 बजे के करीब पटना यूनिवर्सिटी के साइंस कॉलेज स्थित काउंटिंग सेंटर में रिजल्ट घोषित किये गए. जारी रिजल्ट के अनुसार अध्यक्ष पद पर निर्दलीय प्रत्याशी दिव्यांशु भारद्वाज को 1862 वोट, उपाध्यक्ष पद पर ABVP प्रत्याशी योषिता पटवर्धन को 1765 वोट, जेनरल सेक्रेटरी पद पर ABVP के ही सुधांशु भूषण झा को 1647 वोट मिले जबकि जॉइंट सेक्रेटरी पद पर JACP के मो. असजद उर्फ आजाद चांद को 1545 वोट मिले. PUSU के कोषाध्यक्ष पद पर ABVP के ही विजयी कैंडिडेट नीतीश कुमार को 1206 वोट मिले. VIDEO : जीतकर LiveCities से क्या बोले PUSU प्रेसिडेंट दिव्यांशु भारद्वाज…

ABVP को इस साल पटना यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स यूनियन के चुनावों में यह बड़ी सफलता मिली है. बता दें कि पिछले बार वर्ष 2012 में हुए चुनाव में विद्यार्थी परिषद के हाथ सिर्फ अध्यक्ष का पद लगा था. महासचिव और उपाध्यक्ष पर एआईएसएफ ने कब्जा जमाया था. वहीं सचिव पर छात्र जदयू और कोषाध्यक्ष पर छात्र राजद ने जीत हासिल की थी.

रिजल्ट आते ही शुरू हुआ हंगामा

अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के लिए विजयी प्रत्याशियों के नामों की घोषणा होते ही साइंस कॉलेज स्थित काउंटिंग सेंटर के बाहर विपक्षी उम्मीदवारों व समर्थकों ने हंगामा शुरू कर दिया. इस दौरान गोलीबारी की भी सूचना मिली. हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई. कुछ देर के लिए साइंस कॉलेज के आसपास भगदड़ की स्थिति बन गई. किसी तरह पुलिस बल ने हालात पर काबू पाया.

देर रात साइंस कॉलेज के पास हुआ हंगामा
कॉलेज काउंसिलर चुनावों में लेफ्ट की जीत

पटना यूनिवर्सिटी में इससे पहले आज कॉलेज काउंसिलर के जो नतीजे आये हैं, उनमें लेफ्ट पार्टियों का बेहतर प्रदर्शन देखने को मिला है. मिली जानकारी के अनुसार दो लेफ्ट दलों AISA और AISF के गठबंधन ने कुल सात पदों पर बाजी मारी है. इनमें अंजलि कुमारी और भाग्य भारती (मगध महिला कॉलेज) अभिषेक राज (पी.जी. मानविकी संकाय) फिरदौसी बख्स (कॉलेज ऑफ आर्ट एण्ड क्राफ्ट) ने जीत हासिल की है जबकि सपना कुमारी और प्रगति प्रकाश निर्विरोध पटना वीमेंस कॉलेज से जीत चुके हैं.

काउंटिंग सेंटर का निरीक्षण करते VC रासबिहारी सिंह
कॉलेज काउंसलर के विजेता उम्मीदवार

– वाणिज्य महाविद्यालय – मोहित प्रकाश
– वीमेंस ट्रेनिंग कॉलेज – अनुप्रिया
– पटना लॉ कॉलेज – सुमन सौरभ
– कॉलेज ऑफ आर्ट एंड क्राफ्ट – फिरदौसी बख्श
– पीजी ह्यूमैनिटीज – अभिषेक राज
– मगध महिला कॉलेज – अंजलि कुमारी, भाग्य भारती, अनुराधा
– पटना कॉलेज – सत्यम प्रकाश, अंकित कुमार
– बीएन कॉलेज – पीयूष कुमार, मधुसूदन प्रसाद मुकुल
– पटना वीमेंस कॉलेज – मानसी सिन्हा, मदीहा जावेद, सपना कुमारी, प्रगति प्रकाश
– पटना ट्रेनिंग कॉलेज – राज हिमांशु आर्या
– पटना सायंस कॉलेज – मनदीप कुमार, आशीष पुष्कर
– पीजी सोशल साइंस – विवेक कुमार, कुमार सत्यम
– पीजी कॉमर्स, एजुकेशन एंड लॉ – अरविन्द कुमार चौधरी
– पीजी साइंस – श्रवण कुमार

कड़ी सुरक्षा का इंतजाम

वोटिंग के लिए 10 कॉलेजों और चार पीजी विभागों में 46 बूथ बनाए गए थे. बीएन कॉलेज और पटना कॉलेज परिसर के बूथों को अतिसंवेदनशील घोषित किया गया था. मिंटो, जैक्सन और इकबाल हॉस्टल के कारण पटना कॉलेज परिसर को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया था. बावजूद इसके मतदान संपन्न होने के बाद मिंटो और इकबाल हॉस्टल के छात्र आपस में आपस में भिड़ गए. इसमें दो से अधिक छात्रों के घायल होने की सूचना है.

150 कैंडिडेट्स की किस्मत का फैसला

PUSU चुनाव के 150 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला हो गया. छात्र संघ चुनाव के लिए वोटिंग आज सुबह आठ बजे से शुरू हुई और दोपहर दो बजे खत्म हो गई. हालांकि चुनाव में महिला वोटरों की रुचि न लेने के कारण महज 42.56 फीसद मतदान हुआ. सभी 46 केंद्रों पर मतदान लगभग शांतिपूर्ण रहा.

ये है वोटिंग परसेंटेज

पटना वीमेंस कॉलेज और मगध महिला कॉलेज में उम्मीद से कम मतदान हुआ तो वहीँ ट्रेनिंग कॉलेज और पटना साइंस कॉलेज में बंपर वोटिंग हुई. चीफ इलेक्शन ऑफिसर प्रो. पीके पोद्दार ने बताया कि महिला कॉलेजों में मतदान परसेंटेज बेहतर होता तो इस बार 50 फीसद का आंकड़ा पार कर जाता. पटना वीमेंस कॉलेज में 22.09% और मगध महिला कॉलेज में 31.01% ही मतदान हुआ. बीएन कॉलेज में 47.46 और वाणिज्य महाविद्यालय में 47.11% मतदान हुआ जबकि पटना कॉलेज में 57.60 तथा पटना साइंस कॉलेज 59.14% मतदान हुआ.

पीजी विभागों में लगभग आधे विद्यार्थियों ने मतदान किया. पीजी ह्यूमैनिटीज में 49, सोशल साइंस में 50.55, कॉमर्स, एजुकेशन एंड लॉ में 51.27 तथा पीजी साइंस में 50.17% मतदान हुआ. पटना ट्रेनिंग कॉलेज में 81.00, कॉलेज ऑफ आर्ट एंड क्राफ्ट में 64.41%, वीमेंस ट्रेनिंग कॉलेज में 66.00 तथा पटना लॉ कॉलेज में 54.82% मतदान हुआ.

About Anjani Pandey 859 Articles
I write on Politics, Crime and everything else.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*