आज ही निपटा लें कामकाज, 8 और 9 जनवरी को बंद हैं बैंक

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: अगर आपने अब तक अपने सारे कामकाज नहीं निपटाए हैं तो जल्दी कीजिए. कल से 2 दिन तक फिर से बंद रहेंगे सभी बैंक. कुछ सार्वजनिक बैंक के कर्मचारी 8 और 9 जनवरी को राष्ट्रव्यापी हड़ताल करने वाले हैं. उन्होंने सरकार की कथित कर्मचारी विरोधी नीतियों के विरोध में 10 केंद्रीय श्रमिक संगठनों के आह्वान पर प्रस्तावित हड़ताल के समर्थन में यह निर्णय लिया गया है.

बता दें कि बैंक ऑफ बड़ौदा ने एक नियामक फाइलिंग में कहा, ‘हमें भारत सरकार द्वारा सूचित किया गया है कि एआईबीईए और बीईएफआई ने इंडियन बैंक्स एसोसिएशन को 8 और 9 जनवरी को अपनी मांगों को लेकर हड़ताल पर जाने की सूचना दी है. बैंक ने कहा, ‘एआईबीईए और बीईएफआई द्वारा 8 और 9 जनवरी को हड़ताल करने से बैंक की शाखाओं/कार्यालयों में सेवाएं प्रभावित रहेगी’.

आपको बता दें कि सरकार की नीतियों के खिलाफ 8 और 9 जनवरी को करीब दर्जन भर सेंट्रल ट्रेड यूनियन देशभर में हड़ताल कर रहे हैं. सभी सरकारी बैंकों के कर्मचारियों ने भी इस हड़ताल का समर्थन किया है. यहां तक की LIC समेत सभी इंश्योरेंस कंपनियां भी बंद रहेंगी. सहकारी बैंक, नाबार्ड और रिजर्व बैंक भी इस हड़ताल में शामिल रहेंगे. इसे लेकर लगातार दो दिन बैंकों में ताले लटके रहेंगे. इसके कारण ATM में भी कैश लोडिंग नहीं हो पायेगी. ऐसे में बैंकिंग सेवा प्रभावित होगी और लोगों का भी कोई काम नहीं हो पायेगा.

खबर के अनुसार आईडीबीआई बैंक ने बंबई शेयर बाजार को बताया है कि ऑल इंडिया बैंक एम्पलाइज एसोसिएशन (एआईबीईए) और बैंक एम्पलाइज फेडरेशन ऑफ इंडिया (बीईएफआई) ने आठ और नौ जनवरी के राष्ट्रव्यापी हड़ताल के बारे में इंडियन बैंक एसोसिएशन को सूचित किया है.

दस केंद्रीय श्रमिक संगठनों इंटक, ऐटक, एचएमएस, सीटू, एआईयूटीयूसी, एआईसीसीटीयू, यूटीयूसी, टीयूसीसी, एलपीएफ और सेवा ने भी आठ और नौ जनवरी को आम राष्ट्रव्यापी हड़ताल का आह्वान किया है. इससे पहले, 21 दिसंबर को बैंक अधिकारियों ने वेतन बढ़ोतरी को लेकर बातचीत की फाइनल स्टेज पर पहुंचाने और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के प्रस्तावित विरोध को लेकर हड़ताल की थी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*