बिहार के चार IAS अधिकारी बने आब्जर्वर, पांच राज्यों के चुनावों पर रखेंगे नज़र

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : देश के पांच राज्यों में चुनाव हो रहे हैं. ऐसे में इन चुनावों में आब्जर्वर के तौर पर बिहार से चार आईएस अधिकारियों को चुना गया है. इन अधिकारियों के जिम्में इन सभी राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनावों की देख—रेख की जिम्मेदारी होगी.

पांच राज्यों के चुनावों पर रखेंगे नजर

दरअसल राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में विधानसभा के चुनाव हो रहे हैं. बता दें कि छत्तीसगढ़ में वोटिंग की प्रक्रिया हो चुकी है.यहा इस बार कुल 71.93 प्रतिशत वोटिंग हुई. इन चुनावों का रिजल्ट 11 दिसंबर को आएंगे. इन पांचों राज्यो में चुनावी प्रक्रिया को संपन्न कराने के लिए बिहार के आईएस अफसरों को चुना गया है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार इन राज्यों में चुनावों सही तरीके से संपन्न हो इसके लिए 4 आईएस अधिकारियों को आब्जर्वर बनाया गया है. इनमे आईएस अधिकारी कुलदीप नारायण, अरुण प्रकाश, विनोद सिंह और अभय राज को आब्जर्वर के तौर पर नियुक्त किया गया है.

आपको बता दें कि अभी मध्यप्रदेश, राजस्थान, तेलंगाना और मिजोरम में वोटिग होना है. मध्यप्रदेश और मिजोरम में 28 नवंबर को विधानसभा चुनावों को लेकर वोटिंग ​होगी. वहीं राजस्थान और तेलंगाना में 7 दिसंबर को वोटिंग होगी. सभी राज्यो में 11 दिसंबर को ही वोटों की काउंटिंग होगी.

इन पांचों राज्यों में हो रहे चुनावों के नतीजें किस ओर आएंगे इसपर सभी की निगाहे टिकी हैं. इन चुनावों को लोकसभा चुनाव से पहले का सेमी फाइनल भी माना जा रहा है. आपको बता दे कि इन चुनावों की महत्ता को देखते हुए इसमें कई प्रकार की धांधलीयों के होने की संभावना है ऐसे में चुनाव आब्जर्वर की भूमिका और बढ़ जाती है.

कौन होते है आब्जर्वर

चुनावों के आब्जर्वर के रुप में नियुक्त किए गए लोगों को काम राष्ट्रीय कानून के मानकों के आधार पर चुनाव प्रक्रिया के आचरण का आकलन करना होता है. ये ​सीधे तौर पर चुनाव के दौरान धोखाधड़ी को नहीं रोकते हैं, बल्कि उसका रिकॉर्ड और रिपोर्ट तैयार करते हैं.

इनका काम लंबे समय तक चलनेवाली चुनावी प्रक्रिया प्रक्रिया को आब्जर्व करना होता है. चुनाव की वैधता मॉनीटर की आलोचना से प्रभावित हो सकती है, बशर्ते उसका ये आंकलन निष्पक्ष हो तो.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*