अब पटना में भी तेज प्रताप पर FIR दर्ज, ‘बड़बोले’ बयान पर गरमाया मामला

तेजप्रताप आजकल अपने लगातार विवाद पैदा करने वाले बयान दे रहे हैं.

लाइव सिटीज डेस्क : लगातार विवादों में रहे राजद नेता पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव व राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप के खिलाफ भाजपा कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को राजधानी स्थित सचिवालय थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी. तेज प्रताप पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने और धमकी देने का मामला दर्ज कराया गया है. मालूम हो कि एक दिन पहले ही सोमवार को दिल्ली में भाजपा सांसद परवेश वर्मा ने संसद मार्ग पुलिस थाने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक बयान देने के खिलाफ तेज प्रताप यादव पर प्राथमिकी दर्ज करायी थी.

राजद प्रमुख लालू प्रसाद की सुरक्षा कम करके जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा हटाने से नाराज तेज प्रताप यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक बयान दिया था. तेजप्रताप यादव ने कहा था, ”लालूजी का मर्डर कराने की साजिश रची जा रही है और हमलोग इसका मुहंतोड़ जवाब देंगे और नरेंद्र मोदी का हम खाल उधड़वा लेंगे.” उनके इस बयान के बाद राजनीति में भूचाल-सा आ गया था. इससे पहले भी तेजप्रताप यादव ने उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी को धमकी देते हुए उनके बेटे की शादी के मौके पर घर में घुस कर मारने की धमकी दी थी.



आखिरकार तेज प्रताप पर FIR दर्ज, कहा था – PM मोदी की खाल उधेड़वा लेंगे

तेज प्रताप के बयान के बाद एक बार फिर बिहार की सियासत उबल गई. भाजपा-जदयू के तमाम नेताओं ने उन्हें हद में रहने की सीख देते हुए लालू प्रसाद की राजनीति को इसके लिए जिम्मेदार बताया. हालांकि तेजप्रताप के इस बयान के बावजूद पिता लालू प्रसाद बैकफुट पर आते नहीं दिख रहे. लालू ने आज अपने आवास पर प्रेस कांफ्रेंस की जिसमें उन्होंने अपनी सुरक्षा कम किये जाने को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला. इसी दौरान अपने बड़े बेटे तेजप्रताप के बयान पर उन्होंने कहा कि यह एक बेटे का गुस्सा है.

गौरतलब है कि इससे पहले तेज प्रताप यादव ने बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के बेटे की शादी में घुसकर मारने की धमकी भी दी थी. इसे लेकर सुशील मोदी ने आगामी 3 दिसम्बर को होने वाली अपने बेटे की शादी का समारोह स्थल भी बदल दिया था. इस मामले पर भी ख़ासा बवाल हुआ था जिसके थमने से पहले ही एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देकर तेजप्रताप ने बुझती राख को हवा दे दी है.