बिहार के मरीज अब कांके में नहीं करा सकेंगे मुफ्त इलाज, सरकार नहीं उठाएगी खर्चा

लाइव सिटीज डेस्क: बिहार के मरीजों के लिए एक बुरी खबर है. झारखंड के मानसिक अस्पताल कांके में अब मरीजों का इलाज मुफ्त में नहीं किया जाएगा. बता दें कि सरकार ने यह साफ़- साफ़ कह दिया है कि अब वह मरीजों का कोई खर्चा नहीं उठाएगी. दरअसल इलाज के लिए पहले 900 रूपये खर्च होते थे. लेकिन अब सरकार ने इसके लिए मना कर दिया है. बिहार सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने रिनपास निदेशक को इस संबंध में 28 अगस्त को पत्र भेजा है.

बता दें कि रिनपास में मरीजों के इलाज पर सरकार को प्रतिदिन 900 रुपए प्रति मरीज खरच करना पड़ता है. पिछले पांच छह महीनों से बिहार सरकार पैसों का भुगतान नहीं की है जिससे रिनपास का बिहार सरकार पर 74 करोड़ रुपए बकाया हो गए है. रुपयों के भुगतान के लिए रिनपास ने कई बार बिहार सरकार को कहा, लेकिन भुगतान नहीं हो पाया. अब रिनपास ने बिहार सरकार पर दबाव बनाने के लिए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के पास गुहार लगाया है. अभी भी रिनपास में भर्ती मरीजों में 40 से 50 फीसदी मरीज बिहार के ही हैं.