लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः बिहार के लिए आज का दिन बहुत अहम है. लंबे समय से जिस दिन का इंतजार था वो आज खत्म हो गया. लंबे वक्त के बाद आज पटना में रणजी ट्रॉफी के लिए मैच खेला जाएगा. ऐसा करीब 20 साल बाद होने जा रहा है. पहला मैच 28 नवंबर से 1 दिसंबर तक खेला जाएगा. इस सत्र में कुल चार मैच बिहार में होंगे. ये सभी मैच मोइनुल हक स्टेडियम में ही खेले जाएंगे.

मैच का शिड्यूल देखें

28 नवंबर से 1 दिसंबर तक सिक्किम के खिलाफ, 6 दिसंबर से 9 दिसंबर तक अरुणाचल प्रदेश के खिलाफ, 22 दिसंबर से 25 दिसंबर तक नगालैंड के विरुद्ध और 7 जनवरी से 10 जनवरी तक मणिपुर के विरुद्ध ये मैच खेले जाएंगे.

पटना के अलावा बिहार क्रिकेट टीम को आगे शिलांग में 14 दिसंबर से 17 दिसंबर तक मेघालय की टीम के खिलाफ जोरहट में, 30 दिसंबर से 2 जनवरी तक मिजोरम टीम के खिलाफ मैच खेलने हैं. पिछले साल क्रिकेट में मान्यता मिलने के बाद बिहार क्रिकेट टीम विजय हजारे ट्रॉफी समेत 9 मैचों में हिस्सा ले चुकी है. इनमें से 7 मैचों में उसे जीत मिली है.

आपको बता दें कि बिहार क्रिकेट एसोसिएशन की मान्यता रद्द कर दी गई थी. इस विवाद की शुरुआत वर्ष 2000 में तब हुई थी जब लालू प्रसाद यादव का बिहार क्रिकेट संघ पर वर्चस्व बढ़ गया था. तब बीसीसीआई के साथ विवाद शुरू हुआ और 2002 में बिहार की आधिकारिक मान्यता समाप्त कर दी गई. इससे बिहार क्रिकेट का काफी नुकसान हुआ.