राफेल मामले को SC ने किया ख़ारिज, BJP बोली – गुमराह करने के लिए माफी मांगे राहुल गांधी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने अदालत की निगरानी में राफेल डील की जांच की मांग से जुड़ी सभी याचिकाएं को ख़ारिज कर दिया. कोर्ट ने कहा कि राफेल विमान खरीद की प्रक्रिया में शक की कोई गुंजाइश नहीं है. इस फैसले के बाद भाजपा अब विपक्ष पर हमलवार हो गई है. बिहार बीजेपी के प्रवक्ता संजय टाइगर ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस मामले को लेकर पूरे देश माफ़ी मांगे.

पटना में पत्रकारों से बात करते हुए भाजपा प्रवक्ता संजय टाइगर ने कहा कि राहुल गांधी राफेल डील पर बयान दे कर जनता को गुमराह कर रहे थे. अब इस मामले को लेकर राहुल गांधी पूरे देश से माफ़ी मांगे. इसके बाद उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला कांग्रेस के गाल पर एक करारा तमाचा है.

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने अदालत की निगरानी में राफेल डील की जांच की मांग से जुड़ी सभी याचिकाएं शुक्रवार को खारिज कर दी. कोर्ट ने कहा कि राफेल विमान खरीद की प्रक्रिया में शक की कोई गुंजाइश नहीं है. इसमें कारोबारी पक्षपातों जैसी कोई बात सामने नहीं आई है. 14 नवंबर को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसके कौल और जस्टिस केएम जोसेफ की बेंच ने याचिकाओं पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था.

फैसले की अहम बातें

ऐसे मामले में न्यायिक समीक्षा का नियम तय नहीं है. राफेल सौदे की प्रक्रिया में कोई कमी नहीं है. 36 विमान खरीदने के फैसले पर सवाल उठाना गलत है. रिलायंस को ऑफसेट पार्टनर चुनने में कमर्शियल फेवर के कोई सबूत नहीं. देश फाइटर एयरक्राफ्ट की तैयारियां में कमी को नहीं झेल सकता. कुछ लोगों की धारणा के आधार पर कोर्ट कोई आदेश नहीं दे सकता. इसलिए सभी याचिकाएं खारिज की जाती हैं.

राहुल लगा रहे थे आरोप

आपको बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी राफेल डील मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लगातार सवाल खड़े करते रहे हैं. इतना ही नहीं, राहुल गांधी लगातार चुनावी अभियान में कहा करते थे कि देश का ‘चौकीदार चोर’ है. इस नारे के जरिए राहुल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सवाल खड़े कर रहे थे.

About परमबीर सिंह 1805 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*