Breaking : मसुदन स्टेशन से अगवा दोनों रेलकर्मी रिहा, नक्सलियों ने किया था अगवा

मुंगेर/लखीसराय ( सुनील जख्मी): मंगलवार की देर रात नक्सलियों द्वारा मसुदन स्टेशन से दो रेलकर्मियों को अगवा कर लिया गया था. जिसे आज बुधवार को नक्सलियों ने रिहा कर दिया है. इस बात की पुष्टि मुंगेर एसपी आशीष भारती ने की है. उन्होंने कहा है कि अगवा किये गए एएसएम और पोर्टर को नक्सलियों  ने छोड़ दिया है. बता दें कि नक्सली जिन्हें कल देर रात उठा ले गए थे उसमें से एक ASM मुकेश थे और दूसरा रेलकर्मी पोर्टर नागेंद्र मंडल थे. इस रिहाई की पुष्टि लखीसराय एसपी अरविंद ठाकुर ने भी कर दिया है. जानकारी के अनुसार दोनों सुरक्षित है.

ASM मुकेश कुमार (रेलकर्मी)

बता दें कि नक्सलियों की घोषित बंदी शुरू होने के साथ ही मंगलवार देर रात नक्सलियों ने बिहार के जमालपुर-किऊल रेलखंड के मधुसूदन स्टेशन पर हमला बोल दिया था. देर रात किए इस हमले में नक्सलियों ने मधुसूदन स्टेशन के स्टेशन मास्टर और पोर्टर को अगवा कर सिग्नलिंग पैनल फूंक दिया. घटना के बाद से भागलपुर-किऊल रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन ठप हो गया था. जिसका असर आज भी देखने को मिला था.



बता दें नक्सलियों ने इस घटना को मंगलवार रात रात लगभग 12 बजे अंजाम दिया था. उस वक्त गया- जमालपुर सवारी गाड़ी किऊल से जमालपुर की ओर आ रही थी. अभयपुर स्टेशन से यह ट्रेन 11.22 बजे रात में खुली लेकिन रात के दो बजे तक ट्रेन कहां खड़ी थी और किस स्थिति में थी, इसका कोई पता नहीं चल पा रहा था. मसुदन स्टेशन अटैक : किऊल-जमालपुर रूट पर रेल ट्रैफिक बंद, ट्रेनें रुकी, यात्री परेशान

घटना की सूचना मिलने के बाद जमालपुर के स्टेशन अधीक्षक सुधीर कुमार, आरपीएफ इंस्पेक्टर परवेज खान, जीआरपी थानाध्यक्ष कृपासागर एवं टीआई दिलीप कुमार सभी जमालपुर स्टेशन पर कैंप कर गये थे. बड़ी संख्या में जमालपुर स्टेशन पर पुलिस बलों को इकट्ठा किया गया था.