कांग्रेस नेता ने योगी को लिखा पत्र, बोले – भगवान राम के साथ बने माता सीता की भी प्रतिमा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर बहस जारी है. मामला कोर्ट में है. वही इसी बीच उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने राम जन्ममूमि मेें सरयू नदी के किनारे भगवान राम की भव्य प्रतिमा बनाने की बात कही है. इसे लेकर डिजाइन कर लिया गया है. वहीं अब इस मूर्ति को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने योगी जी को एक पत्र लिखा है. कांग्रेस नेता डॉ. करण सिंह ने अपने पत्र में यूपी सीएम से भगवान राम के सााि माता सीता की भी मूर्ति लगाने की मांग की है.

भगवान राम के साथ बने माता जानकी की भी प्रतिमा

सीएम योगी को लिखे अपने पत्र में कांग्रेस नेता ने लिखा है कि वे हाल ही में सिमरिया पहुंचे थे, जहां उन्हे मुरारी बापू की कथा समारोह का उद्घाटन करने का मौका मिला. इसी दौरान उन्हे इस बात का विचार आया कि अयोध्या में भगवान राम के माता सीता की भी प्रतिमा बननी चाहिए. मंत्री ने राम की मूर्ति के साथ मां जानकी के की भी प्रतिमा लगाने की मांग यूपी सीएम से की है.

कांग्रेस नेता डॉ. करण सिंह ने योगी को लिखे अपने पत्र में लिखा कि जब सरकार ने राम की भव्य मूर्ति बनाने का निर्णय कर ही लिया है ​तो मेरा भी एक अनुरोध स्वीकार करें. उन्होंने कहा अपने पत्र में अनुरोध किया की भगवान राम की मूर्ति का साइज छोटा कर उसी खर्च में राम की मूर्ति के बगल मे माता जानकी की भी प्रतिमा बनाई जाए.

अयोध्या में बनेगी दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति

आपको बताते चले कि अयोध्या में उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने यहां प्रस्तावित राम मूर्ति की तस्वीर जारी की है. श्रीराम की यह मूर्ति 151 मीटर ऊंची होगी. जबकि उसके ऊपर 20 मीटर ऊंचा छत्र और 50 मीटर का आधार (बेस) होगा. यानी मूर्ति की कुल ऊंचाई 221 मीटर होगी.

मूर्ति के पेडेस्टल (बेस) के अंदर ही भव्य म्यूजियम भी होगा, जिसमें अयोध्या का इतिहास, राम जन्मभूमि का इतिहास, भगवान विष्णु के सभी अवतारों की जानकारी भी होगी. यह दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति होगी. प्रस्तावित मॉडल के तहत अयोध्या में राम मूर्ति के साथ विश्राम घर, रामलीला मैदान, राम कुटिया भी बनाया जाएगा. इसके अलावा बैठक में गुरुकुल सरयू रिवर फ्रंट डेवलपमेंट, सरयू रिवर फ्रंट लुक आउट और सरयू नदी घाट के संबंध में भी चर्चा हुई.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*