पटना में 13 नवंबर से शुरू होगा मेगा अभियान, 9 नाले होंगे अतिक्रमण मुक्त

लाइव सिटीज डेस्क: राजधानी में बड़े बड़े मकान तो जरुर हो गए हैं, लेकिन इन मकानों में पानी निकासी का रास्ता ठीक नहीं है. बात कर लें नाले की तो यह एक बहुत बड़ा मुद्दा है. राजधानी के 9 नालों को अतिक्रमण मुक्त करने के लिए 13 नवंबर से मेगा अभियान शुरू होने जा रहा है. इसके लिए पटना कमिश्नर ने 9 टीमों का गठन किया है.

अपर समाहर्त्ता राजस्व के नेतृत्व में बादशाही पईंन सहित 9 नालों को अतिक्रमण मुक्त कराते हुए उड़ाही का निर्देश दिया गया है, जिसके लिए जल संशाधन, जिला प्रशासन, नगर निगम और पथ निर्माण विभाग की संयुक्त 09 टीमों का गठन हुआ है.

बादशाही पईंन, आनंदपुरी नाला, पटेल नगर नाला, सैदपुर नाला (सैदपुर से शनिचरा तक), जोगीपुर संप हाउस से बायपास होते हुए पहाड़ी तक अवस्थित NBCC द्वारा निर्मित नाला, नंदलाल छपरा से मीठापुर तक बायपास किनारे अवस्थित नाला, बाकरगंज नाला, कुर्जी नाला, दीघा आशियाना पथ और एयरपोर्ट से राजधानी वाटिका होते अशोक राजपथ सरपेंटेंन/मंदिरी नाला का विस्तृत सर्वेक्षण किया जाएगा. खतियान नक्शा के आधार पर नाला की जांच की जाएगी और अतिक्रमण को हटाया जाएगा. इससे जल जमाव की समस्या उत्पन्न नहीं होगी. सबसे पहले बादशाही पाईंन से अतिक्रमण हटाया जाएगा.

अतिक्रमण हटाओ अभियान दो चरणों में चलाया जायगा. पहला चरण 13 से 20 नवंबर तक और दूसरा 29 से 30 नवंबर तक चलाया जाएगा.