झारखंड के पूर्व विधायक को कोर्ट ने भेजा जेल, बिहार के इस जिले में चल रहा है मामला

बांका में कोर्ट जाते पूर्व विधायक संजय यादव

लाइव सिटीज डेस्क : झारखंड के हैं पूर्व विधायक संजय यादव को बिहार के बांका कोर्ट ने सोमवार को बड़ा झटका दिया है. मारपीट के मामले में उनकी जमानत रद्द कर दी गयी थी. सोमवार को वे कोर्ट में हाजिर हुए. इसके बाद कोर्ट ने उन्हें जेल भेज दिया. कोर्ट ने उन्हें फिलहाल जमानत देने से इनकार कर दिया है. बता दें कि संजय यादव झारखंड के गोड्डा से विधायक रहे हैं और यह मामला मारपीट से जुड़ा हुआ है.

जानकारी के अनुसार झारखंड के गोड्डा जिले के पूर्व विधायक संजय यादव पर मारपीट का आरोप है. यह मारपीट बिहार के बांका जिले में हुई थी. बांका के बाराहाट मधुसूदनपुर स्थित आईओसीएल की गैस रिफिलिंग जय माता दी कन्सट्रक्शन प्लांट के बेगूसराय निवासी साइट इंचार्ज भूषण सिंह व उनके अन्य सहयोगी कर्मियों के साथ मारपीट करने का आरोप था. मारपीट की यह घटना पिछले साल 10 मई को हुई थी. इसी मामले में सोमवार को सुनवाई हुई.

दरअसल इस मामले में हाईकोर्ट ने संजय यादव को अग्रिम जमानत दे रखी थी. लेकिन लगभग माह भर पहले कोर्ट ने उनकी जमानत रद्द कर दी. साथ हाईकोर्ट ने उन्हें चार सप्ताह के अंदर संबंधित कोर्ट में हाजिर होने का आदेश दिया. इसके बाद सोमवार को संजय यादव ने बांका के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी शत्रुघ्न सिंह के कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया. इस पर कोर्ट ने उन्हें जमानत देने से इनकार करते हुए जेल भेज दिया.

गौरतलब है कि पूर्व विधायक पर संजय यादव रंगदारी, मारपीट, लूट, जान से मारने की धमकी व आर्म्स एक्ट के तहत बाराहाट थाना कांड संख्या 244/17 दर्ज हुआ था. 10 मई की इस घटना की प्राथमिकी 12 मई को दर्ज करायी गयी थी. प्राथमिकी साइट इंचार्ज ने दर्ज करायी थी. इसके बाद से संयज यादव कुछ दिनों तक अंडर ग्राउंड हो गये. बाद में हाईकोर्ट ने उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी. गिरफ्तारी पर रोक का समय पूरा होने के बाद हाईकोर्ट ने नया आदेश जारी किया था. उधर संजय यादव के जेल जाने से उनके समर्थकों में मायूसी है.