शातिर सट्टेबाज ने फंसा दी थी जिंदगी, आईजी के आदेश पर हुआ कड़ा एक्शन

पटना : शातिर सट्टेबाज ने एक ज्वेलर की जिंदगी बुरी तरह से फंसा दी थी. पहले तो कम समय में करोड़ों रुपए की कमाई का रास्ता बता 11 लाख 80 हजार रुपए कैश ठग लिए. एक लाख रुपए का चेक लिया. फिर शातिराना अंदाज में एक स्टांप पेपर पर उसका सिग्नेचर ​ले लिया और फ्लैट का सेल पेपर तैयार कर दिया.

बात इतने पर ही नहीं रूकी, शातिर सट्टेबाज ने ज्वेलर के उपर 25 लाख रुपए और बोझ डाल दिया. डिमांंड किए गए रुपए नहीं देने पर जान उसे जान से मारने की धमकी देने लगा. कभी फोन पर तो कभी फ्लैट जाकर उसके गुंडे फैमिली वालों को डराने—धमकाने लगे. फ्लैट को बेचने की बात करने लगे.



alok
गिरफ्त में आरोपी

ये सब हुआ ज्वेलर राजीव कुमार के साथ. जो श्रीकृष्णा नगर रोड नंबर 8 में स्थित मुकुंद बिहार अपार्टमेंट के बी ब्लॉक के फ्लैट नंबर जी—1 में रहते हैं. सट्टेबाज और उसके गुर्गों की धमकी से राजीव और उनकी फैमिली काफी डरी हुई थी. डर के कारण राजीव ने घर जाना छोड़ दिया था. उसने सुसाइड करने की ठान ली थी. लेकिन उससे पहले बुधवार को राजीव ने पूरे मामले की जानकारी एक एसएमएस के जरिए पटना के जोनल आईजी नैय्यर हसनैन खान को दी. जिसे आईजी ने गंभीरता से लिया और उनके निर्देश पर बुद्धा कॉलोनी थाना में एफआईआर दर्ज किया गया.

फिर मामले की जांच और शातिर सट्टेबाज आलोक कुमार उर्फ गुड्डू सिंह व उसके गुर्गों को अरेस्ट करने की जिम्मेवारी पटना के एएसपी आॅपरेशन राकेश दुबे को दी गई. तेजी से कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम ने महज 24 घंटे के अंदर ही शातिर सट्टेबाज आलोक को बुूद्धा कॉलोनी थाना इलाकेे से अरेस्ट कर लिया.

पूरे मामले पर उससे पूछताछ की गई. शातिर होने के साथ ही आलोक काफी बड़ा सट्टेबाज है और अपनी बातों से ये लोगों को इंवेस्टमेंट कर कम समय में करोड़ों के सपने दिखा अपने जाल में फंसाता है. मॉर्निंग वॉक के दौरान ज्वेलर राजीव की इससे मुलाकात हुई थी. इसी दौरान राजीव शातिर की बातों में आ गया था.

यह भी पढ़ें – GPO में जाम छलका रहे थे डाक बाबू, पुलिस ने किया गिरफ्तार

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)