हो गई है पटना के थानों की ग्रेडिंग, टॉप 3 में आए NTPC, पिपरा और नदी थाना

पटना : राजधानी सहित पूरे जिले के थानों की ग्रेडिंग हो गई है. पहली बार हुए ग्रेडिंग में जिले के एनटीपीसी, पिपरा और नदी थाना ने टॉप 3 में अपना स्थान बनाया है. जबकि आश्चर्य वाली बात ये है कि तीन बड़े थाने ग्रेडिंग लिस्ट के अंतिम पायदान पर हैं. जिनमें गर्दनीबाग, कदमकुआं और नौबतपुर थाना शामिल है. थानों के ग्रेडिंग लिस्ट को सेंट्रल रेंज के डीआईजी राजेश कुमार ने जारी कर दिया है.

बता दें कि टॉप 3 में आए थानों की पुलिस टीम को डीआईजी की तरफ से प्रशस्ती पत्र और 10-10 हजार रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी. बड़ी बात ये है कि टॉप 3 में आए थानों के थानेदार से लेकर सिपाही तक की पोस्टिंग भविष्य में बेहतर और संवेदनशील थानों में की जाएगी.

आपको बता दें कि पुलिस की कार्यशैली में बदलाव लाने और पुलिस वालों के परफॉर्मेंस को ठीक करने के उद्देश्य सेंट्रल रेंज के डीआईजी ने थानों के ग्रेडिंग सिस्टम की शुरूआत की है. पहले नंबर पर आए एनटीपीसी थाना को 100 में से 73.1 अंक मिले हैं. जबकि दूसरे नंबर पर आए पिपरा थाना को 71.8 और तीसरे पायदान पर पहुंचे नदी थाना को 69.8 अंक मिले हैं.

— एक से दो दिनों में बदल जाएंगे थानेदार से सिपाही तक राजधानी सहित पूरे पटना जिले में छोट—बड़े कुल 73 थाने हैं. हर एक थाने की ग्रेडिंग की गई है. इलाके के एसडीपीओ ने अपने—अपने इलाके के थानों की रिपोर्ट सेंट्रल रेंज के डीआईजी को भेजी थी.

जारी किए गए ग्रेडिंग के पहले लिस्ट के अंतिम पायदान के तीन थानों की पुरी पुलिस टीम को बदलने का आदेश सेंट्रल रेंज के डीआईजी ने दे दिया है. अंतिम पायदान के तीन थानों में गर्दनीबाग, कदमकुआं और नौबतपुर थाना हैं. अब इन थानों में तैनात थानेदार, सब इंस्पेक्टर, एएसआई, मुंशी और सिपाही यानी की थाने के हर एक स्टाफ को अब बदल दिया जाएगा. थाना से हटाकर थानेदार से लेकर सिपाही तक को पुलिस लाइन भेज दिया जाएगा. डीआईजी की मानें तो एक—दो दिनों में इस प्रकिया को पूरा कर लिया जाएगा. हटाने के आदेश भी जारी कर दिए गए हैं.

पहले स्थान पर आई पालीगंज सब डिवीजन

थानों की ग्रंडिंग के साथ ही जिले के 11 पुलिस सब डिवजीन की भी ग्रेडिंग की गई है. इसमें 80.7 अंक पाकर पालीगंज पुलिस सब डिवीजन पहले स्थान पर है. जबकि दूसरे स्थान 56.27 अंक पाकर मसौढ़ी, तीसरे स्थान पर पटना सदर, चौथे स्थान पर फतुहा, पांचवे स्थान पर पटना सिटी, छठे स्थान पर लॉ एंड ऑर्डर, सातवें स्थान पर सचिवाल, आठवें स्थान पर दानापुर, नौवें स्थान पर एसडीपीओ टाउन, दसवें स्थान पर बाढ़ और अंतिम स्थान पर फुलवारी शरीफ पुलिस सब डिवीजन रही. सारे एसडीपीओ डीआईजी ने अपने परफॉर्मेंस में सुधार लाने का आदेश दिया है. उन्होंने साफ कर दिया है कि थाना और पुलिस सब डिवीजन की ग्रेडिंग का काम आगे भी जारी रहेगा.

ये हैं ग्रेडिंग के आधार

73 थानों की ग्रेडिंग के लिए 4 आधार सेंट्रल रेंज के डीआईजी के तरफ से बनाए गए थे. पहला आधार थानों में पेंडिंग केस में अभियुक्तों की गिरफ्तारी और दूसरे अपराधियों की गिरफ्तारी की संख्या थी. जबकि दूसरा आधार पेंडिंग केस को तेजी से निपटाने का था. गैर जमानतीय वारंट और कुर्की के निष्पादन को तीसरा आधार बनाया गया था. जबकि चौथा आधार सीनियर आॅफिसर्स की तरफ से भेजे गए आवेदन पर जांच कर कार्रवाई से संबंधित था.

यह भी पढ़ें: BREAKING : बिहार के सबसे बड़े गैंगस्टर संतोष झा को सीतामढ़ी में गोलियों से भूना गया

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*