मोबाइल पर वायरल मैसेज को लेकर शुरू हुए विवाद में युवक की हत्या

पटना (अजित) : मोबाइल पर वायरल हो रहे मैसेज के झगड़े ने राजधानी के फुलवारी शरीफ में शुक्रवार की शाम को खूनी रूप ले लिया. नौसा और नवादा गांव के लड़को में कई दिनों से मोबाइल पर गाली—गलौज से भरे मैसेज वायरल हो रहे थे. इसी विवाद में छोटे भाई के झगड़े को सुलझाने गये बड़े भाई को बाइक सवार अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी. हत्या के बाद करीब आठ से दस की संख्या में रहे सभी बाइक सवार अपराधी वाल्मी की ओर फरार हो गये. इस हत्या का चश्मदीद मृतक का छोटा भाई इंतेशार के शोर मचाने के बाद नोहसा के लोग घटनास्थल की ओर दौड़े. सरेशाम हत्या की वारदात के बाद लोगों मे अफरा—तफरी मच गयी और दुकानों के शटर बंद होने लगे.

आनन—फानन लोगों ने घायल युवक को पीएमसीएच ले गये जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. युवक की मौत की जानकारी मिलते ही लोग उग्र हो गये और एनएच 98 पर जम कर बवाल काटते हुये आगजनी करने लगे और सड़क जाम कर दिया. स्थानीय नोसा मोड़ के चाउमिन दुकान को लोगों ने सड़क पर लाकर फूंक दिया. इतना ही नहीं बबाल कर रहे लोगों ने आसपास के दर्जनों घरों पर पथराव कर मामले को दूसरा रूप देने की कोशिश करने लगे. बबाल की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस पर लोग पथराव करने लगे.

हालात को काबू करने के लिए सिटी एसपी सेंट्रल अमरकेश डी, सिटी एसपी वेस्ट रविन्द्र कुमार, एडिशनल एसपी राकेश कुमार दुबे, विधि—व्यवस्था डीएसपी शिबली नोमानी, थानेदार धर्मेंद्र कुमार, जानीपुर थानेदार मोहन प्रसाद, खगौल थानेदार संजय पाण्डेय, दानापुर थानेदार रंजित कुमार कई थानों की पुलिस, वज्र वाहन और भारी पुलिस फ़ोर्स के साथ पहुंचे. एडिशनल एसपी राकेश दुबे ने बताया कि एक युवक की हत्या के बाद लोग उग्र हो गये. पुलिस हत्यारों की तलाश में छापेमारी कर रही है.

नोसा निवासी ऑटो चालाक मिन्हाजुद्दीन के बेटे इंतेशार का बगल के गांव नवादा के लड़कों से मोबाइल पर मैसेज वार हुआ था. इसी मैसेज वार के झगड़े को सुलझाने गये इंतेशार के बड़े भाई आरजू रजा (उम्र 28 वर्ष ) को युवकों ने गोली मार हत्या कर दी. स्थानीय लोगों की मानें तो शुक्रवार की शाम इस झगडे को लेकर ही इंतेशार को दुसरे गुट के लड़कों ने कॉल कर नोसा मोड़ बुलाया. इसके बाद दोनों गुट के झगड़े को सुलझा भी लिया गया. इसी दौरान नौसा मोड़ के पास चाउमिन की दूकान पर जमा युवकों ने आरजू रजा के सर में गोली मारी दी. गोली लगते ही आरजू वहीं गिरकर तड़पने लगा. बड़े भाई को गोली लगते ही वहां मौजूद छोटा भाई इंतेशार शोर मचाने लगा.

जब तक लोग वहां पहुंचते तब तक सभी बदमाश वाल्मी की ओर बाइक से ही भाग गये. इसके बाद नौसा के ग्रामीणों ने पटना से औरंगाबाद जा रही नेशनल हाइवे—98 को जाम कर बवाल करना शुरू कर दिया. चाउमिन की दुकान को आक्रोशित लोगों ने फूंक डाला. कई घरों में पथराव कर दिया जिससे वहां अफरा—तफरी मच गयी. इस बीच परिजनों ने चिंताजनक हालत में आरजू को पीएमसीएच ले गये जहां उसे चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया. इसकी खबर नौसा पहुंचते ही प्रदर्शन कर रहे लोग और भी उग्र हो गये.

पुलिस इस हत्याकांड में मृतक के छोटे भाई इंतेशार का बयान का इंतजार कर रही थी. मृतक पांच भाइयों में सबसे बड़ा था. मृतक हाल ही में सऊदी से आया था. विदेश में जेसीबी चलाने का काम करता था. पिता ऑटो चालक मिन्हाजुद्दीन, मां अमीना और उसकी तीन बहनों का रो—रोकर बुरा हाल हो रहा था. सिटी एसपी वेस्ट रविन्द्र कुमार ने बताया कि युवकों के दो गुटों के आपसी विवाद में एक युवक की हत्या हुयी है. पुलिस अपराधियों की जल्द गिरफ्तार करेगी और पूरे मामले का खुलासा किया जायेगा.

यह भी पढ़ें – अभी अभी : पटना में सरेशाम खूनी भिड़ंत, गिरी लाश

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*