लाइव सिटीज डेस्क: बिहार के नवादा में मानवता को शर्मसार करने वाली तस्वीर सामने आई है. जहां 10 रूपये देकर एक नाबालिग बच्ची के साथ रेप की घटना को अंजाम दिया गया है. बताया जा रहा है कि सात वर्षीय बच्ची अपने गांव में खेल रही थी तभी तेज बारिश होने लगी. इस बीच बच्ची ने छुपने के लिए मंदिर के अंदर शरण लिया. बच्ची जहां छिपी हुई थी वहां पहले से गांव का एक निवासी विनय मौजूद था. जिसके बाद उसने बच्ची को बिस्कुट खाने के लिए 10 रूपये दिए. बच्ची उसके बहकावे में आ गयी और विनय ने उसके साथ दुष्कर्म कर लिया.

बताया जा रहा है कि बच्ची खेलते हुए वहां पहुंच गयी. जब बहुत देर तक वापस नहीं आई तो परिजनों ने खोजबीन शुरू कर दी. जिसके बाद मां ने बच्ची को मंदिर के पास देख लिया जहां बदमाश उसके साथ दुष्कर्म कर रहा था. तभी मां ने गांव के बाहर पूजा स्थल में दुष्कर्म करते देख लिया. इस दौरान दुष्कर्मी भाग निकला. इस बात की जानकारी बच्ची के परिजनों को दी गयी.

गांव में पंचायत कर मामले को रफा-दफा करने का प्रयास किया गया. लेकिन, पीड़िता की मां ने किसी की नहीं सुनी और नारदीगंज थाने में प्राथमिकी दर्ज कर ग्रामीण विनय को अभियुक्त बनाते हुए न्याय की गुहार लगायी. मामले को गंभीरता से लेते हुए थानाध्यक्ष दीपक कुमार राव ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपित को गिरफ्तार कर थाने भेज दिया.

बताया जा रहा है कि यह घटना जिले के नारदीगंज थाना क्षेत्र के एक गांव की है. जहां एक सात वर्षीय बच्ची के साथ गांव के ही विनय चौहान नामक युवक द्वारा दुष्कर्म करने की घटना को अंजाम दिया गया है.