नक्सली उदय यादव का पत्नी से भी था विवाद, नौबतपुर में ही दर्ज थे 3 केस

फुलवारी/ नौबतपुर (अजीत यादव): राजधानी से सटे नौबतपुर में हत्याओं का सिलसिला लागातार जारी है. प्रशासन चाहे लाख दावे करे लेकिन नौबतपुर में हत्या और लूट की वारदातों को रोक पाने में विफल रहा है. एक हत्या की गुत्थी सुलझती नहीं की दूसरी और तीसरी, चौथी हत्या हो जाती है. बिहार में क्राइम में इतनी वृद्धि हुई है कि अब तो पुलिस के लिए भी किसी चुनौती से कम नहीं है.

हालिया वाकया पटना के नौबतपुर से आ रही है. जहां जहानाबाद जेल ब्रेक आरोपी नक्सली नेता उदय यादव को अपराधियों ने गोली मारकर बीती रात हत्या कर दी थी. पुलिस शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की छानबीन में जुटी है. ऐसा बताया जा रहा है कि इधर 5-6 माह से उदय को अपनी पत्नी से आपसी विवाद चल रहा था.

नौबतपुर थाना क्षेत्र के पितवांस दरियापुर में आपसी वर्चस्व को लेकर अपराधियों ने नक्सली नेता उदय यादव को गोली मारकर हत्या कर दिया है. सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने लाश को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. इस मामले में मृतक के परिजनों ने आधा दर्जन लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराया गया. पुलिस नामजद अपराधियों के गिरफ्तारी के लिए छापेमारी में जुटी है. उदय यादव जहानाबाद जेल ब्रेक का आरोपी रहा है.

उदय यादव पूर्व में नक्सली वारदातों को अंजाम दे चुका है. जहानाबाद जेल ब्रेक का भी आरोपी रहा है. नौबतपुर थाने में तीन मामले पूर्व से दर्ज है. दो वर्ष पहले जमानत पर छूटकर उदय यादव बाहर आया था. लेवी को लेकर वर्चस्व की बात भी सामने आ रहीं है. उदय के हत्या के पीछे आसपास के अपराधी के साथ नक्सली गतिविधि से जुड़े लोगों का भी नाम आया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*