मैट्रिक में टॉप कर गया सीएम नीतीश कुमार का नालंदा, टॉप 5 में गोपालगंज भी शामिल

लाइव सिटीज डेस्क (राजेश ठाकुर) : बिहार बोर्ड ने मंगलवार की शाम मैट्रिक का रिजल्ट जारी कर दिया. पिछले साल की तुलना में इस बार बेहतर रिजल्ट रहा. टॉप-3 में लड़कियों ने बाजी मारी. टॉप-3 में चार लड़कियां शामिल हैं. टॉप टेन में शामिल कुल 23 स्टूडेंट्स में से जमुई स्थित सिमुलतला आवासीय विद्यालय के ही 16 स्टूडेंट्स ने बाजी मारी. लेकिन आपको आइए बताते हैं कि बिहार के 38 जिलों में टॉप-5 में कौन जिले आए हैं.​ किस जिलों के बच्चों ने अपने शहर का नाम रोशन किया है.

बिहार बोर्ड की ओर से मैट्रिक में सफल बच्चों की लिस्ट जारी कर दी गयी है. बिहार के 38 जिलों में से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का गृह क्षेत्र नालंदा सबसे टॉप पर है. नालंदा में 82.58 स्टूडेंट्स ने बाजी मारी है. यहां से 51041 बच्चों ने परीक्षा दी थी. इनमें से 42152 बच्चे सफल रहे. इसी तरह दूसरे स्थान पर 80.60 परसेंट रिजल्ट के साथ लखीसराय जिला रहा. यहां से 22987 बच्चे परीक्षा में शामिल हुए थे, जिनमें से 18528 बच्चों ने बाजी मारी.

बिहार के टॉप-5 में तीसरे स्थान पर गोपालगंज रहा. यह वही गोपालगंज है, जहां से मूल्याकंन के बाद लगभग 42 ​हजार कॉपियां गायब हो गयी थीं. इस पर काफी बवाल मचा था और इस खबर को लाइव सिटीज ने प्रमुखता से छापा था. तो बता दें कि गोपालगंज से इस बार 79.57 परसेंट बच्चे सफल रहे. यहां से कुल 59918 बच्चों ने परीक्षा दी थी और इनमें से कुल 47674 बच्चों ने सफलता पायी.

बिहार कैबिनेट : 22 एजेंडों पर लगी मुहर, डीजल पर बढ़ाई गई सब्सिडी

बिहार का मुंगेर जिला इस बार के मैट्रिक में चौथे स्थान पर रहा. मुंगेर से 78.69 स्टूडेंट्स ने बाजी मारी. यहां से कुल 27293 स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी थी. बोर्ड के अनुसार मुंगेर से 21478 बच्चों ने उत्तीर्णता हासिल की. इसी तरह पांचवें स्थान पर नवादा रहा. नवादा जिले से 41973 स्टूडेंट्स में से 32265 सफल रहे, जो कि रिजल्ट का 76.87 रहा.

आइए एक नजर डालते हैं बिहार में तीनों श्रेणी के स्टूडेंट्स पर :

प्रथम श्रेणी
छात्र : 123547
छात्रा : 65779
कुल : 189326

द्वतीय श्रेणी
छात्र : 367989
छात्रा : 295895
कुल : 663884

तृतीय श्रेणी
छात्र : 175359
छात्रा : 181744
कुल : 357103