बहन ने भाई से ही रचा ली शादी, कहा – जीवन भर इसी के साथ रहूंगी

आरा : भोजपुर के इतिहास में एक और काला अध्याय जुड़ गया है. रिश्ते को दरकिनार कर एक भाई ने अपनी बहन संग ही रचा ली शादी. जिस हाथ से वह अपनी बहन को विदा करता उसी हाथ से उसने उसे पत्नी के रूप में अंगीकार कर लिया. घटना जगदीशपुर थाना क्षेत्र के डीएम रोड की है. दोनों ने सासाराम में जाकर एक मंदिर में शादी रचा ली और कोर्ट में भी एफडेबिट डाल दिया. इस बात का खुलासा तब हुआ जब घर से गायब छात्रा महिला थाना में आकर खड़ी हो गई. जिसके बाद अपहरण के मामले का पटाक्षेप हो गया.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बीते माह 7 अप्रैल को जगदीशपुर थाना क्षेत्र के डीएम रोड से एक छात्रा गायब हो गई. युवती के परिजनों ने उसके अपहरण का मामला स्थानीय थाना में दर्ज कराया. तभी से पुलिस छात्रा की तलाश में लग गई. अपहरणकर्ता के परिजनों पर पुलिस लगातार दबाव देने लगी. इसी बीच इस मामले में शुक्रवार को नाटकीय मोड़ तब आया जब अपहृत छात्रा अचानक महिला थाना पहुंची और अपने अपहरण की बात को झूठा करार देते हुए अपने चचेरे भाई राजा बाबू के साथ ही शादी रचाने की बात कही. उसके बाद महिला थाना पुलिस ने छात्रा का मेडिकल सदर अस्पताल में कराया.

भागकर पहुंची सासाराम, रचाई शादी

अपहरण की बातों पर विराम लगाते हुए महिला थाना में पहुंच गई छात्रा ने कहा कि मैडम मेरा अपहरण नहीं हुआ था बल्कि मैं अपनी मर्जी से अपने चचेरे भाई राजा बाबू के साथ सासाराम एक मंदिर में शादी रचा चुकी हूं और उसी के साथ जीवन भर रहूंगी. हम लोगों ने कोर्ट में शादी के लिए अर्जी भी दी है.

बताते चलें कि युवती जगदीशपुर थाना क्षेत्र के डीएम कोठी रोड में पूरे परिवार के साथ रहा करती थी. वहीं उसके बगल में चचेरे भाई का भी घर था. 4 साल पहले दोनों में प्रेम संबंध बने और मौका देखकर दोनों घर से फरार हो गए. युवती के परिजनों ने काफी खोजबीन के बाद 8:00 अप्रैल को थाने में युवक राजा के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज करवाया. परिजनों ने पुलिस से अपनी लड़की की बरामदगी की गुहार लगाई थी.

पुष्कर पाण्डेय की रिपोर्ट

इसे भी पढ़ें –

पत्रकार हत्याकांडः शहाबुद्दीन को 8 दिन की रिमांड पर लेगी सीबीआई

द बर्निंग बस : जिंदा जले 8 यात्रियों में से 3 की पहचान

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*