‘द बर्निंग ट्रेन’ होने से बाल-बाल बची गांधी उधना दानापुर एक्सप्रेस

घटना के बाद की तस्वीर

बक्सर (शशांक सिंह): दानापुर-मुगलसराय रेलखंड पर रविवार को उधना दानापुर एक्सप्रेस द बर्निंग ट्रेन होते-होते बची. ड्राइवर की तत्परता से एक बड़ा हादसा टल गया. वही यात्री धुंआ देखकर इधर उधर भागने लगे. स्टेशन पर अफरा तफरी का माहौल हो गया. लोगों ने इसकी सूचना स्टेशन मास्टर को दिया. किसी तरह धुंए पर काबू पाया गया.

हुआ यूं कि बक्सर रेलवे स्टेशन पर जब उधना दानापुर एक्सप्रेस रुकी तो उसके डब्बे से धुंआ निकलने लगा. यात्रियों को लगा कि ट्रेन में आग लग गयी है. यात्री अपना समान छोड़कर ट्रेन से कूदने लगे. लोग अपनी जान बचाने के लिए भागने लगे. स्टेशन पर अफरा तफरी का माहौल कायम हो गया. धुंआ इतना तेज निकल रहा था कि ट्रेन में आग लग गयी हो.



वही यात्री धुंआ को देखकर भयभीत थे. यात्रियों ने बताया कि धुंआ इतना तेज निकल रहा था कि पूरे ट्रेन में आग लग गया हो. किसी तरह ट्रेन से कूदकर अपनी जान बचाई है. ट्रेन से धुंआ निकलने के कारण डाउन लाइन पर ट्रेनों का परिचालन ठप हो गया. लोगों ने उसकी सूचना स्टेशन प्रबंधक एमके पांडेय ने बताया कि रविवार की सुबह उधना दानापुर एक्सप्रेस में ब्रेक बेन्डिंग के चलते चक्के से धुआं निकला था. आधे घन्टे के बाद धुंआ खत्म हो गया . इसके बाद ट्रेन को आगे के लिए रवाना किया.

घटना के बाद की तस्वीर

बता दें कि इन दिनों रेल हादसे लगातार हो रहे हैं. जिसमें ट्रेनों का बेपटरी होना और आये दिन ट्रेनों में आग का लगना लगातार जारी है. हर हादसे के बाद जांच की बात होती है. लेकिन फिर कुछ दिन बाद वही घटना  फिर से घटित हो जाती है.