भारी बारिश के बाद बढ़ गया है बागमती का जलस्तर, तटबंधों पर बढ़ाई गयी सुरक्षा

लाइव सिटीज डेस्क: उत्तर बिहार व सीमावर्ती नेपाल की नदियों के जलग्रहण क्षेत्र में पिछले पांच दिनों से लगातार बारिश हो रही है. इसको लेकर बिहार में नदियों का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है. नेपाल से निकलनेवाली नदियों में बढ़ते जलस्तर के कारण कई इलाकों में बाढ़ का पानी फैलने लगा है. पूर्वी चंपारण से होकर गुजरनेवाली करीब आठ नदियों का जलस्तर बढ़ गया है. तो वहीं कोसी और बागमती का भी जलस्तर बढ़ चुका है. अगर बारिश की यही रफ़्तार रही तो बाढ़ आने से कोई नहीं रोक पाएगा.

शिवहर में बागमती खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. बागमती एवं लालबकेया का पानी मोतिहारी, ढाका, शिवहर पथ के देवापुर से बेलवा तक सड़क पर चढ़ गया. इसके चलते गाड़ियों का परिचालन रोक दिया गया है. दोनों नदियों के बाढ़ का पानी इस क्षेत्र से निकल कर दूसरे इलाकों में जाने लगा है.

प्रभात खबर में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार बाढ़ और बारिश को देखते हुए जल संसाधन विभाग ने तटबंधों पर निगरानी बढ़ा दिया है. संवेदनशील स्थलों जहां पानी की धारा दबाव बनता है, वहां विशेष नजर रखी जा रही है. यह निर्देश दिया जाता है कि कार्यपालक अभियंता अपने-अपने सहायक अभियंता एवं कनीय अभियंता के साथ तटबंधों की 24 घंटे तक चौकसी एवं निगरानी सुनिश्चित करें.

इसके अलावा प्रमंडलाधीन मोबाइल, एंबुलेन्स के रूप में रखे गये ट्रैक्टर, जेनेरेटर मजदूर एवं आवश्यक सामग्रियों के साथ 24 घंटे तैयारी अवस्था में रखा जाये एवं सूचीबद्ध ठेकेदार से भी संपर्क में रहकर तटबंध को हर हाल में सुरक्षित रखा जाये.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*